Bhabhi Sexपड़ोसी की चुदाई

मोहल्ले की भाभी को चुदाई करके बच्चा पैदा किया

हे मेरे प्यारे दोस्तों, और मेरी खूबसूरत नंगी लड़कियों! तुम सब आनंद से चूमते रहो।

मेरा नाम है हम्राज़, मेरी उम्र 36 साल है। मैं अहमदाबाद की एक उच्च मध्यवर्गीय परिवार से हूँ।

आज मैं आपको एक काल्पनिक कहानी बता रहा हूँ।

उस समय हमारे मोहल्ले में एक लड़के, साकिब की शादी हुई थी। हम लोग बारात में गए थे। दुल्हन थी नुसरत बानू (19 साल की, बहुत ही गोरी, गर्मजोशी से भरी और खूबसूरत)। शादी के दिन ही शाम को जब मैं अपने घर की छत पर खड़ा था, तब वो नुसरत भी अपने सुहागरात वाले कमरे की खिड़की खुली रखकर बाहर देख रही थी। उसने मुझे देखा और तब से मैं उसे ही देख रहा था। पहले तो वह शर्मा गई। फिर मुझे प्यार से चूमने के इशारे करते हुए मुझसे देखने लगी। थोड़ी देर बाद उसने मुझे अपना लहंगा उतार कर अपनी गोरी, नरम और सेक्सी कमर पर उसके छोटे-छोटे गांड को दिखाना शुरू कर दिया।

मैं धीरे-धीरे उसके घर के पीछे की दीवार पर लगे लकड़ी के पाइप पर चढ़ गया और खिड़की से उसके कमरे में घुस गया। वह खुश होकर “शsshshh” करते हुए मुझसे प्यार से लगाव किया। मैंने उसके ऊपर से कपड़े भी उतार दिए। उसने भी मेरे कपड़े उतार दिए। हम दोनों चुंबन कर रहे थे। मैंने उसे गोद में उठाया और उसके नग्न, गोरे, गर्म और सेक्सी शरीर को चूमते हुए उसे अपने बिस्तर पर लेट दिया। अब वह मेरा बड़ा लिंग, जो 8 इंच का था, उसके गोरे मुंह में लेकर चूस रही थी। मैं उसके सीने और स्तनों को अपने दांतों से चाटता हुआ, उन्हें बार-बार चूमता रहा और उसके गोरे, चिकने, सेक्सी गांड को चाटता रहा।

Hindi Sex Story :  बारिश में मिली एक हॉट भाभी

30 मिनट तक ऐसा करने के बाद उसने मुझे खुशी से कहा, “ओ मेरे सैया जी, आज मेरी जिंदगी की पहली बार चूमना भी करोगे और सुहागरात भी करोगे मेरे साथ। आज तक मुझे कभी चूमने का मौका नहीं मिला सैया जी। आज तुम मेरी जिंदगी की पहली ज़ोरदार चुदाई और सुहागरात भी करवा दो।” हम दोनों चुंबन करते रहे।

मैंने ज़ोर से अपना लिंग उसके गोरे गुदे में ज़ोर से घुसा दिया। “ओ बाबा रे, मर गई, उऊुउ, ओव्व, यूईईआई सैया जी धीरे से जी, ओwwwOuchhh” ऐसे वो चिल्ला रही थी। नीचे से उसकी सास ने आवाज दी। “नुसरत क्या हुआ?” उसने कहा, “अम्मी, एक बड़ा बिल्लू कमरे में घुस गया है।” नीचे सब लोग ज़ोर से हंसने लगे। मैंने नुसरत की छाती और स्तनों को अपने मुंह में लेकर दांतों से चाटते हुए उसे हिलाते हुए ज़ोर से अपना लिंग उसके गुदे में बार-बार डालकर उसके अंदर तक उसका गांड फाड़ दिया, उसमें बहुत सारा प्रेम रस और चिकना पानी निकलने लगा। “मर गई रे, ओwwwOuchhh, ओ बाबा रे, फाड़ दिया गांड मेरा, ओwww आहह्ह्ह उफ्फ़ यूईईआई” कहती हुई उसके गोरे, गर्म और सेक्सी पेट को लपेटते हुए और उसका गांड चूमते हुए चूमती रही।

3 घंटे तक उसकी ज़ोरदार चुदाई करने के बाद मैंने अपना पूरा चिकना शुक्र उसका गोरा फाड़ा हुआ गांड में डाल दिया। वह खुश होकर मेरे लिंग को अपने मुंह में लेकर “उम उम उम” चूस रही थी। मैं भी उसके प्रेम रस से भरे गुदे को चाटता रहा।

यह कहानी आप Hotsexstory.xyz में पढ़ रहे।

फिर उसने कहा, “सैया जी धन्यवाद धन्यवाद जी, शुक्रिया जी। तुमने मेरे साथ चुदाई करके मेरी जिंदगी की पहली बार चुदाई और सुहागरात करवा दी।” फिर मुझको चूमते हुए बोली, “अब जाओ। कोई आ सकता है।” मैंने उसे चूमकर अपने कपड़े पहनकर चला गया।

Hindi Sex Story :  मैं चूत का पुजारी

और वो जब भी मौका मिलता वह मुझे बुलाती थी और हम दोनों 3 या 4 घंटे तक ज़ोर से खुशी से चुदाई करते थे। 2 महीनों के बाद एक दिन, उसके साथ चुदाई करते समय उसने कहा, “सैया जी सुनो, मेरे पेट में आपका (मेरा) बच्चा पल रहा है जो आपने मेरे पेट में बहुत चुदाई करके डाला है। उसका पति साकिब तो कंडोम पहनकर ही उसे छूता था। बस वो मेरे साथ ही बिना कंडोम के चुदाई करता है। इसलिए मेरे पेट में 2 महीने का आपका (मेरा) बच्चा पल रहा है।”

इस तरह से मेरी और उसकी चुदाई 9 महीने तक चली। उसने मेरे और उसके एक बच्चे को जन्म दिया। वो एक बेटा है। वह जब उससे खेलता है, तो नुसरत बहुत खुश होती है।