पति के सामने बॉयफ्रेंड से चुदवाया-2

Pati ke samne boyfriend se chudwaya-2

समीर : फिर उसके बाद क्या हुआ, तुमने उससे चुदवाया नहीं?

में : नहीं मेरी चुदाई नहीं हो पाई. उस दिन मैंने बस उसका लंड हिला हिलाकर पानी बाहर निकाल दिया, जिसकी वजह से वो एकदम शांत हो गया और उसके लंड का आकार धीरे धीरे छोटा होने लगा था और उसके एक सप्ताह के बाद ही हमारी सगाई तय हो गई और मैंने उससे अपना रिश्ता तोड़ दिया. उसके बाद हमने कभी मिलने बात करने की कोई भी कोशिश नहीं की.

समीर : ओह तो तुम्हारी सेक्स कहानी उसके साथ वहीं पर एकदम अधूरी रह गई है ना? तुम सच बताओ क्या अब अगर तुम्हें मौका मिले तो तुम उससे चुदवाओगी?

में : अभी हम इतना खुलकर बातें कर रहे है तो में तुम्हें बिल्कुल सच सच बताउंगी कि अगर तुम चाहो तो में तुम्हारी मर्ज़ी से उससे जरुर मिलूंगी और जो भी काम करूँगी वो सब तुम्हारे सामने करूँगी.

समीर : बहुत खुश होते हुए मेरे बूब्स को दबाते हुए बोला, वाह मेरी जान में तुम्हें सेक्स में वो पूरा मज़ा देना चाहता हूँ और में चाहता हूँ कि तुम मेरे सामने अपने बॉयफ्रेंड राजेश से मिलो और उसके साथ किस करो, उससे अपनी चुदाई करवाओ.

दोस्तों फिर हमने सब कुछ प्लान किया और फिर हम दोनों ने उस रात को बहुत जबरदस्त जमकर चुदाई की और पूरे मज़े लिए और समीर ने उस रात को मुझे मेरा बॉयफ्रेंड राजेश बनकर बहुत जमकर चोदा और में बहुत खुश थी.

फिर दूसरे दिन हमारे बनाए प्लान के मुताबिक दोपहर को करीब 12 बजे मैंने राजेश को अपने मोबाईल से कॉल किया और वो मेरी आवाज सुनकर बहुत चकित हुआ. मैंने कुछ ही समय में उसको अपनी प्यारी प्यारी बातों में उलझाकर अपने घर पर मिलने के लिए बुला लिया, वो मेरी बात सुनकर घर पर आने के लिए मान गया. फिर कुछ देर बातें करने के बाद मैंने फोन रख दिया और करीब एक बजे दरवाजे की घंटी बजी, मुझे अच्छी तरह से पता था कि वो राजेश ही था.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Meri Bhabhi Bani Meri Sex Teacher

फिर मैंने उठकर जाकर दरवाजा खोल दिया और अब में उसको देखकर बहुत खुश हुई और उसको तुरंत दरवाजे से अंदर खींचकर मैंने बहुत टाईट हग किया और उसके गले में अपनी कोमल गोरी गोरी बाहें डालकर मैंने उसको चूमा और बहुत देर तक चूमा और वो भी मुझे जमकर चूम रहा था, वो आज मेरे साथ पूरे दो साल की कसर निकाल रहा था.

फिर कुछ देर बाद हम दोनों ने अपना अपना होश संभाला और मैंने उसको बैठा दिया और फिर किचन में जाकर पानी और चाय बनाकर दी. फिर वो चाय पानी पीने के बाद अब मेरी गोद में अपना सर रखकर लेटा हुआ था और मेरे झूलते हुए बड़े आकार के बूब्स से खेल रहा था दोस्तों सच पूछो तो इतने सालों बाद में उसके बदन का स्पर्श पाकर में बहुत खुश थी और में बहुत अच्छा महसूस कर रही थी.

राजेश : कोमल इतने सालो बाद तुझे मेरी याद आई? मैंने तुम्हें बहुत याद किया.

में : राजेश में भी तुम्हें बहुत याद करती थी, इसलिए मैंने आज तुम्हें यहाँ पर बुलाया है, इससे पहले हम कुछ नहीं कर पाए, लेकिन अब तुम अपनी सारी कसर को पूरी कर लो और मुझे अपना बना लो जानू, राजेश में तुमसे बहुत प्यार करती हूँ, प्लीज तुम मुझे अपनी बाहों में भर लो और मुझे प्यार करो और मुझे अपनी बीवी बना लो.

दोस्तों उससे यह बात कहते हुए मैंने उसको चूमना शुरू किया. उसका सर अब भी मेरी गोद में था और में उसका मुहं हाथ से खोलकर उससे प्यार करने लगी थी, उसको भी बहुत मज़ा आ रहा था. अब मैंने उसकी पेंट की तरफ देखा तो उसका लंड अब धीरे धीरे खड़ा हो रहा था.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  प्रीति भाभी रंडी बन गई भैया की गलती से

तभी मैंने उसका लंड पकड़ लिया और उसको सहलाने लगी, उतने में ही दरवाजे पर लगी घंटी बजी और फिर मैंने डरने का नाटक किया और हमने तुरंत अपना हुलिया थोड़ा बहुत ठीक किया और मैंने उठकर दरवाज़ा खोल दिया, देखा तो मेरे सामने मेरे पति समीर खड़े हुए थे और उन्होंने पहले प्लान के हिसाब से मुझ पर थोड़ा सा गुस्सा किया.

समीर : क्यों तुमने दरवाजा खोलने में इतना समय कैसे लगा दिया? और यह कौन है, मैंने पहले कभी इसको नहीं देखा, यह हमारे घर में इस समय क्या कर रहा है?

दोस्तों मेरे पति के मुहं से यह सभी बातें सुनकर राजेश एकदम से बहुत डर गया, मुझे उसके चेहरे से उसका डर साफ साफ नजर आ रहा था और वो तुरंत उठ खड़ा होकर मुझसे बोला कि में अब जा रहा हूँ. फिर मैंने कहा.

में : राजेश तुम रूको, तुम्हें ऐसे उठकर कहीं जाने की कोई जरूरत नहीं है और समीर यह राजेश है, यह मेरा कॉलेज के टाईम का दोस्त है. मैंने तुम्हें पहले बताया था कि में उस समय राजेश को बहुत प्यार करती थी और यह वही है.

समीर : ओह तो यह बात है, हाँ तो राजेश तुम मुझे अब सच सच बताओ कि क्या तुम अब भी मेरी बीवी को पहले की तरह चाहते हो और इसको उतना ही प्यार करते हो?

राजेश : वो में वो.

दोस्तों राजेश के मुहं से हकलाते हुए बस दो चार शब्द ही निकले.

समीर : तुम अब बिल्कुल भी मत डरो, हाँ बोलो में अपनी बीवी की खुशी के लिए कुछ भी कर सकता हूँ, फिलहाल उसकी खुशी तुम हो, हाँ बोलो क्या तुम मेरी बीवी को आज भी पाना चाहते हो?

हिंदी सेक्स स्टोरी :  भाभी को दोनों तरफ से चोदा-1

राजेश : हाँ समीर में कोमल को पहले से ही बहुत प्यार करता हूँ और आज भी में उसकी अदाओ पर मरता हूँ और अगर आपकी इजाज़त हो तो उसके साथ वो सब करना चाहता हूँ, जो मैंने इससे पहले आज तक कभी नहीं किया और उसके बदले में आप मुझसे जो माँगो वो में दूँगा.

समीर : अभी तो मुझे कुछ नहीं चाहिए, वक़्त आने पर में तुमसे माँग लूँगा और फिलहाल तुम मेरी बीवी को जी भरकर प्यार करो और उसे खुश करो, में यहीं हूँ चलो अब तुम दोनों अपना काम शुरू करो.

फिर इतना कहते ही समीर ने मुझे मेरे बॉयफ्रेंड राजेश की बाहों में धकेल दिया और मैंने तुरंत राजेश का चेहरा पकड़कर उसके होंठो को चूमना शुरू किया, लेकिन राजेश अब भी थोड़ा सा शरमा रहा था. फिर समीर पास आ गया और राजेश का हाथ पकड़कर उसने मेरी छाती पर रख दिया और उस पर अपने हाथ रखकर राजेश से कहा कि आज के लिए मेरी बीवी तेरी है, चूम ले इसको, चोद ले, तुझे जो करना है कर ले, मेरी बीवी की चूत का चोद चोदकर भोसड़ा बना दे मादारचोद. अब समीर की ऐसी बातें सुनकर राजेश जोश में आ गया और वो मेरे ब्लाउज के ऊपर से ही बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा. समीर बहुत करीब से यह सब काम देख रहा था और वो अपना लंड भी मसल रहा था और में भी बिल्कुल पागल हो रही थी.

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!