साली के साथ सेक्स मैच-1

Saali ke saath sex match-1

Jija sali sex stories, हैल्लो दोस्तों, मेरी यह पहली स्टोरी है. यह स्टोरी मेरे और मेरी साली के बीच की है, मेरी साली बहुत सेक्सी लेडी है, उसमें सेक्स कूट-कूट कर भरा हुआ है और उसके हर अंग-अंग से कामरस टपकता है, उसका फिगर बहुत ही सेक्सी है, वो बहुत ही सुंदर है, एकदम गोरी, लम्बे-लम्बे काले बाल, हाईट करीब 5 फुट 4 इंच और फिगर साईज 38-24-38 है. मुझे वो बहुत अच्छी लगती है और वो बहुत ही कामुक है. एक बार संयोगवंश मेरा उसका सेक्स रिलेशन हो जाने के कारण हम एक दूसरे से काफ़ी खुल गये है.
एक दिन मैंने उसे फोन किया और उससे बातों के दौरान पूछा कि तुम क्या कर रही थी? तो वो बोली में टी.वी. पर वन-डे क्रिकेट मैच आ रहा है और उसे देख रही हूँ, आज का बहुत शानदार मैच है. फिर मैंने कहा कि तुम बोलो तो हम भी अपना एक वन-डे मैच खेले, डे नाईट मैच होगा, वो मैच बड़ा मस्त होगा, पूरी मस्ती आएंगी, बोलो कब खेलना है? तारीख, टाईम सोचकर बताओं तुम कब फ्री हो? तो वो बोली हाँ-हाँ वेरी गुड आइडिया.

अगले रविवार को मेरे पति भी आउट स्टेशन रहेंगे और बच्चे भी अपनी बुआ के घर कल चले जाएँगे, तो में अकेली रहूंगी प्रोग्राम फाईनल है, लेकिन यह मैच कैसा होगा? हम कैसे खेलेंगे? कुछ तो बताओ. फिर मैंने कहा कि बड़ा ही मज़ेदार सेक्स मैच होगा, हम दोनों बारी बारी खेलेंगे और बैटिंग करेंगे और फिर जब तुम बैटिंग करोगी तो मुझे बचना है और तुम मुझे कितनी जल्दी पस्त करती हो, उसमें हम कुछ भी कर सकते है, लेकिन कोई चोट नहीं पहुँचे इसका ध्यान रखना है. फिर में हँसकर बोला कि मैच के इंटरवेल में लंच और ड्रिंक्स भी होगा ना, प्लीज़ पूरी तैयारी रखना. फिर वो भी खुश हो गई.

फिर अगले रविवार को में ठीक समय पर 3 बजे उसके घर पहुँच गया तो माहौल देखकर मेरा दिल खुश हो गया, क्योंकि वो घर पर अकेली ही थी, उसने आज नौकरानी को भी छुट्टी दे दी थी. फिर मैंने जैसे ही डोर बेल बाजाई, तो उसने दरवाज़ा खोला तो में उसे देखता ही रह गया. उसने महीन सलवार सूट पहन रखा था और उसमें उसका सुडोल बदन पूरा ही झाँक रहा था, वो क्या सेक्सी लग रही थी. फिर उसने कहा कि वेलकम आइए-आइए आपका मैच ग्राउंड में स्वागत है, तो में हँसने लगा. फिर उसने फ्लेट का दरवाजा लॉक कर दिया.

फिर उसने मुझे कोल्ड ड्रिंक्स दी और पूछा कि क्या तुम नाश्ता करोगे? तो मैंने कहा कि अभी नहीं बाद में करेंगे, लेकिन उसकी रिक्वेस्ट पर मैंने कुछ ड्राई फ्रूट्स लिए, उसने अंगूर भी रखे थे तो मैंने एक अंगूर आधा अपने मुँह में रखकर अपना मुँह उसकी तरफ किया, तो उसने मेरे होंठो पर किस करते हुए आधा अंगूर खा लिया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  भाई की साली को जन्नत दिखाई

फिर मैंने कहा कि मैच शुरू करे, अब वो बहुत उत्तेजित हो रही थी, कैसे होगा? तो मैंने कहा कि पहले कौन बैटिंग करेगा? चलो टॉस करते है.

फिर वो बोली कि लैडीस फर्स्ट, में पहले टॉस करूँगी, तुम तैयार हो और फिर वो बोली कि बैटिंग कैसे होगी? बोलो. फिर मैंने कहा कि तुम्हें मुझे सेक्स के लिए उत्तेजित करके जैसे भी हो मजबूर करना है और में कितनी देर तक रुक सकता हूँ? यह देखना है, तुम कितनी जल्दी मुझे सेक्स के लिए तैयार करती हो. फिर में बैटिंग करूँगा और में तुम्हारे साथ सेक्स करूँगा और तुम कितनी देर बचती हो यह देखना है.

फिर वो बोली कि बहुत रोचक और मस्त आइडिया लाए हो मेरे लवली राजा, तो में भी बहुत खुश हुआ. बस फिर क्या था? उसने साउंड सिस्टम ऑन किया और एक आईटम सोंग चला दिया. अब में सोफे पर बैठा हुआ था और वो आईटम गर्ल की तरह डांस करने लगी थी, वो बड़ी ही मादक अदाओं में चहक रही थी, उसकी ठुमकती कमर और कूल्हें बड़े ही कामुक लग रहे थे. अब उसने अपनी स्लीव खोल दी थी, जो कि बटन पर अटकी हुई थी और फिर उसने अपना टॉप भी उतार दिया, उसने अंदर बड़ा ही सेक्सी पारदर्शी टॉप पहना हुआ था.

अब उसने अपनी सलवार भी उतार दी थी, उसने सलवार के नीचे पारदर्शी हाफ पेंट पहन रखी थी, उसके नीचे बड़ी ही सुंदर पेंटी दिख रही थी और उसके पीछे छिपी हुई चूत के उभार बड़े ही सेक्सी लग रहे थे और अब वो नाचते-नाचते मेरे होंठो पर किस कर देती थी. अब वो बीच-बीच में मेरी शर्ट के बटन खोलने लगी थी और मेरी छाती पर अपना हाथ फैर रही थी.

उसने अपना टॉप उतार दिया, तो अब ब्रा में उसके दो बड़े-बड़े, गोरे-गोरे बूब्स बाहर आने को बेताब हो गये थे और उन्हें बार-बार मेरे मुँह के पास ला रही थी और पीछे कर रही थी, जो मुझे बहुत उत्तेजित कर रहा था. अब मेरी इच्छा हो रही थी कि उसकी ब्रा को झटके से पकड़कर अलग कर दूँ, लेकिन मैंने कंट्रोल किया. अब में भी उसे तरसाना चाहता था. फिर उसने अपने आप ही अपनी ब्रा भी उतारकर अलग रख दी, तो उसकी दोनों चूचियाँ उछलकर आज़ाद हो गई, वो क्या हसीन लग रही थी? अब वो अपने होंठो को अपने दातों से दबाकर मंद-मंद मुस्कुरा रही थी.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  जीजा को मेरी चूत चाटने में बहुत मज़ा आया

फिर वो अपनी चूचियों के निप्पल मेरे मुँह के पास ले जाकर वापस ले जाने लगी और मेरी पेंट की चैन भी खोल दी और अपना एक हाथ अंदर ले जाकर मेरा लंड बाहर निकाल लिया और उसे सहलाने लगी और बोली कि तुम्हारा यह बहुत प्यारा है और उसे किस कर लिया और फिर अपने दोनों बूब्स के बीच में लाकर दबाने लगी. अब मुझे बहुत आनंद आ रहा था, अब उसका और मेरा सब्र का बाँध टूटा जा रहा था. अब उसकी इस सेक्सी फास्ट बोलिंग के आगे में अपने आपको रोक नहीं पा रहा था और मेरा तेज शॉट खेलने का मन कर रहा था.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

वो बोली कि क्या रे दम नहीं है क्या? और फिर उसने मेरी पेंट के बटन खोलकर उसको नीचे सरका दिया. बस फिर क्या था? मैंने भी अपनी पेंट उतार दी और अपने लंड को अंडरवियर के बंधन से आज़ाद किया और उसे अपनी बाँहों में जकड़ लिया और बोला कि अब देख में तेरी इन गेंदो की कैसे धुनाई करता हूँ? तूने मेरी बैटिंग और शॉट देखे नहीं है.

फिर वो बोली कि दम है तो लगाना शॉट. फिर मैंने उसे तुरंत बेड पर लेटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया और अपने लंड को उसकी चूत के पास ले जाकर सीधा अंदर की तरफ़ धीरे-धीरे रगड़ा और अपने हाथों से उसके बूब्स को दबाए जा रहा था और साथ-साथ उसके होंठ चूसना सब एक साथ चल रहा था. अब वो सिसकियाँ लेकर मुझसे अपने होंठ सटाए और मुझे किस कर रही थी, क्या होंठ थे उसके? जैसे गुलाब की पत्तियां हो और ऐसा टेस्ट कि बस नशा आ गया. अब वो भी कामुकता में सिसकारी भर रही थी उम्म्म्मम, आआआआहह, अम्म, एम्म.

मैंने उसके मुँह में अपना मुँह डाल दिया और उसे डीप किस करने लगा, अब उसे बहुत मज़ा आ रहा था. फिर मैंने दूसरा धक्का दिया तो मेरा लंड लगभग 75% तक अंदर चला गया. फिर वो ज़ोर से चिल्लाई, लेकिन मैंने उसके मुँह को किस से भर दिया और उसके बूब्स को ज़ोर-ज़ोर से दबाने लगा. अब उसे थोड़ा दर्द जरूर हुआ था, लेकिन वो मज़े लूट रही थी.

फिर थोड़ी देर तक उसे सहलाने के बाद मैंने एक और आखरी धक्का दिया तो मेरा पूरा लंड उसकी चूत के अंदर चला गया. अब उधर मैच में शॉट पर शॉट मार रहा था और अब में भी शॉट लगाने के मूड में आ गया था. फिर मैंने कहा कि अब देख मेरे चौके छक्के और फिर में भी अपने धक्के ज़ोर-ज़ोर से मारने लगा. फिर मैंने एक ज़ोर का झटका मारा और बोला कि ले चौका और फिर चौका.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  चाची ने मेरे टावल में हाथ डाला-2

वो भी उछलकर मजे लेने लगी और अपनी कमर उचकाते हुए बोली कि हाए मेरे राजा और ज़ोर से और ज़ोर से लगाओ राजा, वैसे अब ज़रा ज़ोर-ज़ोर से धक्के मारो ओवर ख़त्म होने वाले है. अब में समझ गया था कि वो अब झड़ने वाली है, तो तब में उसकी चूचियों को अपने दोनों हाथों में पकड़कर अपनी कमर झटकों के साथ हिला-हिलाकर उसे चोदने लगा.

अब वो भी अपने दोनों पैरों को मेरी कमर पर डालकर अपने चूतड़ों को उछाल-उछालकर मेरे लंड के धक्को का जवाब देने लगी थी और बोली कि और ज़ोर की बैटिंग करो मेरे राजा और ज़ोर से पेलो मेरी चूत में अपना लंड, आज मेरी चूत को फाड़ डालो, आज सारे ग्राउंड को रौंद डालो, मेरी चूत का भोसड़ा बना दो, लेकिन तुम्हें मेरी चूत की कसम अभी रुकना मत, बस ऐसे ही शॉट लगाते रहो, मुझे बहुत मज़ा आ रहा है, हाए क्या शॉट मार रहे हो? इस मैच का मज़ा आ गया, तुम धक्के मेरी चूत में मार रहे हो और चोट मेरे दिल तक पहुँच रही है, अरे ओवर ख़त्म होने वाले है, यह लास्ट ओवर ही है, जितना मन है कर लो, हाए में झड़ रही हूँ मेरे राजा और तेज-तेज अपना लंड पेलो, हाए में गईईईईई, हाए और चोदो, रुकना नहीं, ओह ओह हा हा वा वा मेरी चूत को फाड़ डालो और फिर थोड़ी देर के बाद वो झड़ गई.

मैंने कहा कि दूसरी पारी भी तो खेलनी है तो तब मैंने तेज-तेज धक्के मारकर मेरा लंड पूरा का पूरा उसकी चूत में डालकर मेरे लंड के पानी से उस साली की चूत को भर दिया. अब मेरे झड़ने के साथ- साथ वो एक बार फिर से झड़ गई थी और मुझसे लिपट गई और मुझे चूमने लगी और बोली कि आज तो मजा आ गया.

फिर मैंने उसके निप्पल को दबा दिया और कहा कि टेस्ट मैच खेलना हो तो बताना. फिर उसने भी मेरे लंड को दबाते हुए कहा कि वो लम्बा होता है, वन-डे ठीक है. फिर मैंने अपने कपड़े पहन लिए और उसे इस सेक्सी मैच के लिए थैंक्स कहा और अपने घर चला आया.

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!