सगे भाई बहन की चुदाई देख होश उड़े-2

Sage Bhai Bahan Ki Chudai Dekh Hosh Ude-2

दो मिनट तक दोनों अपनी कमर को चलाते हुए अपने जननांगों को ऐसे ही रगड़ते रहे। दोनों ही मस्ती में सराबोर हो गए थे। ईशान ने अदिति की टी-शर्ट को ऊपर की ओर उठा दिया। अदिति के कोमल गौरे धड़ की एक झलक देखने को मिली। अदिति ने अपने हाथ ऊपर को किये और ईशान ने उसकी टी-शर्ट को उतार कर फेंक दिया। अन्दर अदिति ने काले रंग की ब्रा पहन रखी थी।

मैंने जिंदगी में पहली बार किसी लड़की को इस रूप में देखा था, तो मैं भी उत्तेजना से कांप गया। अदिति का पूरा शरीर जैसे किसी सांचे में ढाल के बनाया गया था। काली ब्रा में उसके शरीर की कांति और भी बढ़ गई थी। ब्रा के अन्दर अदिति के बड़े बड़े स्तन कैद थे, जो बाहर आने को बेकरार लग रहे थे।

ईशान के हाथों ने तुरंत उसे अपने कब्जे में ले लिया और बड़ी बुरी तरह उसे मसला। अदिति की ब्रा पारभासी थी, जिसकी वजह से में उसके गहरे रंग के निप्पल देख पा रहा था। मैंने कभी किसी के स्तनों को छूकर नहीं देखा था, मगर मैं ईशान को हो रहे उस गुदाज़ स्पर्श का आनंद महसूस कर सकता था। अदिति दीदी के स्तन बहुत ही गुदाज़ थे, इसका अंदाजा इससे ही लग रहा था, जब जब ईशान उसे अपने कब्जे में ले लेता था, अदिति की ब्रा के कप्स के साइड से स्तन का जो हिस्सा बाहर दिख रहा था, वो फूल जाता था। Sage Bhai Bahan Ki Chudai

ईशान ने अदिति के स्तनों अग्र भाग को अपनी उँगलियों से चुटकियों से पकड़ कर गोल गोल घुमाया, तो अदिति सिसिया उठी क्योंकि उसने अदिति के निप्पल पकड़ लिए थे। उसने निप्पलों को जोर से मींसा तो अदिति फिर से सिसिया उठी, मगर दर्द से। अदिति ने अपने निप्पलों को ईशान के हाथों से छुड़ा लिया। अदिति के निप्पल तन गए थे, जो की ब्रा में उभर आये थे। ईशान ने उन पर अपनी उँगलियों के पोर को गोल गोल नचाते हुए छेड़ा, तो अदिति गुदगुदी के मारे फिर से सिसिया उठी।

जब गुदगुदी अदिति से बर्दाश्त नहीं हुई तो वो ईशान के छाती से अपने स्तनों को चिपका कर लिपट गई। ईशान ने अदिति की स्कर्ट के हुक खोले और फिर साइड चेन खोल कर स्कर्ट को उसके शरीर से अलग कर दिया। अदिति ने अन्दर सफ़ेद रंग की पैंटी पहनी थी। ईशान ने उसकी जांघो के ठीक बीच में अपना हाथ फिराया और हल्के हल्के अदिति के योनि प्रदेश को सहलाने लगा। अदिति भी सिसियाते हुए उत्तेजित हो रही थी। ईशान ने उसकी ब्रा से स्तनों को बाहर निकाल लिया। अदिति के स्तनों को नग्न देख कर मेरी हालत खराब हो गई। उसके स्तनों में कसाव था, तनिक भी लचक नहीं थी, गोरे गोरे स्तनों पर गहरे भूरे रंग के निप्पल बहुत ही प्यारे लग रहे थे। Sage Bhai Bahan Ki Chudai

ईशान ने अदिति के एक स्तन को अपनी मुठ्ठी में कैद कर लिया और जोर जोर से दबाने लगा और दूसरे स्तन के निप्पल को अपने होठों में दबा कर चूसने लगा। अदिति बहुत ही उत्तेजित हो गई थी, उसकी आँखें बोझिल और लाल हो गई थी। ईशान के सर को अपने हाथों से पकड़ कर उसका मुँह उन्होंने दूसरे निप्पल से सटा दिया, ईशान अपनी छोटी बहन की मन:स्थिति समझ गया और उसने दूसरे निप्पल को मुँह में लेकर चूसकर इन्साफ किया। ईशान ने अदिति के स्तनों को हल्के हल्के दांत से काटा, अदिति थोड़ी थोड़ी देर में उसका सर पकड़ कर दूसरे तरफ के निप्पल की ओर ले जाती, जाहिर था अदिति को मजा आ रहा था। और जब कभी ईशान जोर से स्तनों को काटता था, तो अपने स्तनों को उसके मुँह से छुड़ाकर बनावटी गुस्सा दिखाती थी, और फिर अगले ही पल अपना निप्पल ईशान के मुँह को समर्पित कर देती थी। ईशान ने काफी देर तक अदिति का दूध पिया। अदिति के स्तनों पर उसकी उँगलियों और दांतों के लाल निशान पड़ गए थे।

दोनों ही अब काफी उत्तेजित हो गए थे। ईशान ने अदिति को बिस्तर पर बैठाया और खुद खड़ा हो गया। अदिति के मुँह में उसने फिर से अपना लिंग डाला। अदिति ने तुरंत लिंग को जोर जोर से चुसना शुरू कर दिया। दो मिनट चुसवाने के बाद ईशान ने लिंग को अदिति के मुँह से खींच लिया। अदिति ने दुबारा चूसने के लिए मुँह खोला, उससे पहले ही ईशान ने उसके कंधों को पीछे को धकेल कर उसे बिस्तर पर चित्त लिटा दिया। ईशान ने अदिति की पैंटी की ईलास्टिक में उँगलियाँ फंसा कर पैंटी को उतार लिया, ब्रा के स्ट्रेप को कंधे से नीचे उतार कर स्तनों को ब्रा की कैद से पूरी तरह विमुक्त कर दिया और फिर अदिति की टांगों को फैला कर खुद बीच में लेट गया। Sage Bhai Bahan Ki Chudai

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

मैं शुरू में बस यह सोच रहा था कि अदिति केवल हल्की-फुल्की मस्ती कर रही है, अदिति शायद बस मुखमैथुन ही किया करती होगी मगर अब तो मुझे लग गया कि अदिति ईशान के साथ, अपने सगे बड़े भाई के साथ, सेक्स करने के लिए तैयार है।

मुझे अदिति की चिंता होने लगी कि कैसे वो इतना मोटा लिंग झेल पाएगी क्योंकि मेरे दोस्तों ने बताया था कि मोटा लिंग लड़की को शुरू में बेहिसाब दर्द देता है। ईशान ने अदिति की योनि को सहलाया, फिर उस पर पास में पड़ी तेल की बोतल से तेल निकाल कर तेल लगाया। अदिति की योनि एक छोटी सी दरार जैसी दिख रही थी। ईशान अपनी ऊँगली को योनि के अन्दर डालकर चलाता तो अदिति मस्ती से सिसियाने लगती थी। Sage Bhai Bahan Ki Chudai

अदिति की योनि को अच्छी तरह से तेल से मालिश कराने के बाद ईशान फिर से अदिति की टांगों के बीच बैठ गया। ईशान ने अदिति की योनि के मुँह पर अपना लिंग-मुंड टिकाया तो अदिति की योनि के भगहोष्ट ऐसे खुल गए जैसे लिंग अन्दर लेने को तैयार बैठे हो। ईशान ने अदिति की कमर को अपने मजबूत हाथों से पकड़ लिया। अदिति ने भी उसकी कमर के चारों ओर अपनी टाँगें लपेट के घेरा बना कर जकड़ लिया। ईशान ने अपनी कमर को अदिति की तरफ ठेल दिया।

ईशान का लिंगमुंड अदिति की योनि के होठों को फैलाता हुआ अन्दर चला गया। मुझे बड़ा आश्चर्य हुआ कि कैसे इतना मोटा लिंग-मुंड अदिति की संकरी सी योनि में अपनी जगह बना लिया। ईशान ने दुबारा कोशिश करके थोड़ा सा लिंग और अन्दर प्रवेश करा दिया। अदिति हल्के हल्के सिसकारियाँ ले रही थी। फिर ईशान ने एक जोरदार झटका मारकर लिंग को काफी अन्दर तक अपनी छोटी बहन की योनि की गहराई तक अन्दर पंहुचा दिया कि अदिति की चीख निकल आई। Sage Bhai Bahan Ki Chudai