अपना लंड गिफ्ट किया प्यारी चूदासी दीदी को-2

(Apna Lund Gift Kiya Pyari Chudasi Didi Ko-2)

तब दीदी मे मुझसे कहा की “राज तुम जाकर नहा लो” तो मैने उनसे कहा की दीदी अभी नही पहले आप नहा लो फिर मैं नहा लूँगा. तब दीदी ने अचानक मुझसे कहा की ठीक है चलो आज दोनो साथ मे ही नहाते है. ये सुनकर में तो बहुत खुस हुआ पर भाव खाते हुए मैने उनसे कहा की “दीदी ये आप क्या बोल रही हो, आप मेरी दीदी हो में आपके साथ कैसे नहा सकता हूँ” तो दीदी बोली “क्यू नहाने मे क्या बुराई है?” तब मैने कहा कुछ नही. तो दीदी बोली देखो माँ आ जाएगी तो उनके आने से पहले चलो नहा लिया जाए. तो मैने कहा की ठीक है चलो नहा लेते है. तब में ओर दीदी हॅंड पंप के पास जाकर बैठ गये तो दीदी ने मुझसे कहा की लूँगी निकाल दो. मैने उनसे कहा की मैने अंदर कुछ नही पहना है तो वो मुस्कुराने लगी ओर बोली की जा अंदर जाकर अपनी अंडरवेयर पहन ले।                        “Apna Lund Gift Kiya”

में अंदर गया ओर अंडरवेयर पहनकर आ गया. अब में दीदी के सामने में सिर्फ़ अंडरवेयर मे था. मैने भी दीदी से कहा की दीदी आप भी अपने कपड़े निकाल लो तो दीदी मुस्कुराते हुए बोली की नही में ऐसे ही नहाउंगी. तब में कुछ नही बोला. फिर हम नहाने लगे. दीदी मुझ पर पानी डाल कर मुझे साबुन लगाने लगी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा तो तो मैने भी उन पर पानी डाल दिया. तब दीदी मुझ पर प्यार से चिल्लाई की राज क्या कर रहे हो. तो मैने कहा अपनी दीदी से प्यार. दीदी के ब्रा सॉफ सॉफ दिख रहे थे. उस दिन उससे ज्यादा कुछ नही हुआ पर वो रात हमाँरी सुहागरात होने वाली थी. उस दिन लक भी हमाँरे साथ था. शाम को पापा आए तो वो बोले की उन्हे ओफीशियल तौर पर आउट ऑफ स्टेशन जाना है।                                               “Apna Lund Gift Kiya”

तब मैने कहा की माँ भी पापा के साथ घूम आए. पापा माँन गये पर माँ बोली की तो घर पर कोन रहेगा. तब मैने कहा में ओर दीदी है ना ओर तो बस 15 दिन की ही तो बात है क्या हो जाएगा. माँ भी माँन गई ओर वो ओर पापा फिर चले गये. उस रात दीदी ओर में जब सो रहे थे तो मैने फील किया की दीदी मेरे लंड से खेल रही है. मुझे बहुत अच्छा लगा. थोड़ी देर तक खेलने के बाद दीदी मेरे पेंट के अंदर अपना हाथ डाल दी ओर मुझसे चिपक गई. मैने अच्छा मौका देख कर अपने होंठ दीदी के होंठ से लगा दिए ओर चूसने लगा. दीदी ने भी कुछ नही कहा ओर हम दोनो पागलो की तरह किस करते रहे. लगभग 15 मिनट तक हम एक दूसरे को पागलो की तरह किस करते रहे फिर हम अलग हुए. तब हम पहली बार एक दूसरे को देखे ओर खूब ज़ोर से हंसे. तब मैं एक बार फिर खूब ज़ोर से दीदी के होंठ को चूसा ओर उनसे कहा की दीदी i love u . दीदी भी मुझसे बोली की राज i love u 2.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Didi Khud Lund Chusna Chahti Thi Mera

फिर दीदी मुझसे बोली राज तुम खुस तो हो ना तो मैने कहा हा दीदी में बहुत खुस हूँ पर दीदी क्या में आपको….. दीदी बोली बोल ना पागल शर्माता क्या है तो मैने कहा दीदी में आपको नंगी देख सकता हूँ तब दीदी ने मेरे होंठ पर ज़बरदस्त किस किया ओर बोली मेरे भाई आज हमाँरी सुहाग रात होने वाली है. मुझे नंगा देखना तो क्या जितना जी चाहे चोदना अब से तुम मेरे दूसरे पति हो. पर तुम नहाकर तैयार हो जाओ में कुछ कपड़े देती हो तुम पहन लो ओर में भी थोड़ी देर मे तैयार होकर आती हूँ पर तब तक वेट करो… मैने कहा ठीक है.. फिर दीदी नहाने चली गई ओर नहाकर माँ के रूम मे घुस गई. में भी नहाकर रूम मे आया था कुर्ता पजामा रखा हुआ तो जो मैने पहन लिया. थोड़ी देर के बाद दीदी मुझे माँ के रूम मे पुकारा जब में वहा गया तो देखा की दीदी दुल्हन बन कर बेड पर बैठी है. मैने वो रूम अंदर से बंद किया ओर उनके पास गया. तब दीदी ने मुझे पीने को दूध दिया ओर मेरे कान मे बोली. आज में सिर्फ़ तुम्हारी हूँ जो करना चाहो करो में कुछ नही बोलूँगी…                                                             “Apna Lund Gift Kiya”

तब में दीदी के पास बैठ गया ओर सबसे पहले उनके शरीर से सारी ज्वेलरी निकाल कर अलग की. फिर मैने उनकी साड़ी निकाल दी. दीदी शरमाकर सिर झुका कर खड़ी थी. फिर मैने. दीदी के शरीर से उनकी ब्लाउस ओर पेटिकोट को अलग किया. अब दीदी सिर्फ़ ब्रा पेंटी मे थी. तब दीदी ने कहा की सिर्फ़ मेरे कपड़े ही खोलोगे. अपने भी तो निकालो. तो मैने कहा क्यू तुम खुद ही निकाल लो. तब दीदी ने मुझे भी नंगा किया ओर मैने उनके बदन से बाकी बचे कपड़े अलग कर लिए. अब हम दोनो भाई बहन बिल्कुल नंगे खड़े थे।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  भाई बहन की सेक्स कहानियाँ

फिर हम दोनो एक दुसरे से चिपके ओर हमारे सारे अंग एक दूसरे से चिपके हुए थे हमारे होंठ छाती मेरा लंड ओर उनकी चूत सब कुछ. थोड़ी देर किस करने के बाद हम अलग हुए ओर फिर मैने दीदी को अपने गोद मे उठाया ओर बेड पर लिटा दिया. ओर उनके चुचि चूसने लगा. दीदी आवाज करने लगी अहह राजा चुसो औररर जोर से उफफफफ्फ़ चूस भाई चूस.. ऊहह माँआआ. लगभग 15-20 मिनट तक उनके लेफ्ट चुचि चूसने के बाद मैने उनके राईट चुचि पर अटॅक किया ओर उसे भी खूब चूसा. फिर मेरा अगला निशाना बना मेरी दीदी की चूत. मैने जैसे ही अपने होंठ दीदी के रसीली चूत पर रखा दीदी चिल्ला उठी. आअहह.. में उसे चाटने लगा ओर उनकी चूत के अंदर अपने जीभ डालने लगा दीदी मेरा सिर पकड़ कर अपने चूत मे दबाने लगी ओर अपना सिर इधर उधर पटक रही थी ओर चिल्ला रही थी म्‍म्म्माआअ काट बहनचोद और चाट बिल्कुल रंडी बना दे अपनी बहन को साले… लगभग 20 मिनट तक चाटने के बाद दीदी का अमृत निकल गया ओर लाइफ मे फर्स्ट टाइम मैने अमृत पिया ओर वो भी अपनी दीदी का।                                   “Apna Lund Gift Kiya”

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

दीदी बहुत खुस हुई ओर मुझे उपर खिच कर मेरे होंठो को चूसने लगी ओर बोली कैसे लगा अपनी बहन की चूत चाट कर ओर उसका अमृत पीकर. मैने कहा में ये अमृत रोज़ पीना चाहता हूँ… तब दीदी ने कहा हा.. हा.. ये तुम्हारे लिए ही तो है जब दिल करे इसे पी लेना… फिर दीदी ने मुझसे कहा की अब तुम लेट जाओ.. मुझे भी आइस-क्रीम खानी है. मैने कहा हा.. हा.. क्यू नही… फिर दीदी मेरे लंड को अपने मूह मे ले लिया हहा.. चूसो ओर चूसो साली रंडी चूस इसको चूस… ओर 15-20 मिनट बाद मैने कहा की दीदी में आ रहा हूँ ओर मेरा भी अमृत दीदी के मूह मे मेरा अमृत इतना निकला की दीदी का मूह पूरा भर गया ओर कुछ बाहर उनके चुचि पर भी गिरा जिसे वो उठा कर पी गई. हम फिर एक दूसरे की किस करने लगे।                           “Apna Lund Gift Kiya”

फिर 25-30 मिनट हम ऐसे ही लेटे रहे ओर फिर दीदी बोली चलो अब घोड़े दौडाने का वक़्त आ गया है… मैने कहा हा.. मैदान भी गीला है बड़ा मज़ा आएगा… फिर हम दोनो हसणे लगे. फिर में उठा ओर दीदी के चूत मे अपना लंड उसमे डालने लगा. दीदी की चूत बहुत टाइट थी. मुझे ये तोड़ा अजीब लगा तो मैने दीदी से कहा की दीदी जीजा जी से चुदने के बाद भी तुम्हारी चूत इतनी टाइट केसे है… तो दीदी ने बताया की उनका लंड बहुत छोटा है ओर ठीक से अंदर भी नही जाता… अभी तक तो मेरी सील भी नही टूटी है ओर इसे अब तुम ही तोडो. तब मैने कहा ठीक है साली कुत्तिया देख अब ये कुत्ता क्या करता है ओर मैने अपने लंड को उनके चूत पर रख कर एक ज़ोरदार धक्का दिया ओर मेरा लंड आधा उनके चूत मे गुस गया।                                           “Apna Lund Gift Kiya”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Bahan ko choda sote time

दीदी चिल्ला उठी तब मैने अपने होंठ उनके होंठ पर रखे ओर फिर थोड़ी देर बाद उनसे पूछा क्या हुआ रुक जाऊ क्या.. दीदी के चूत से खून आ रहा था. पर उन्होने कहा हरामी मैने रुकने को कहा क्या चोद साले कुत्ते जैसे चोद.. मैने फिर धक्का दिया ओर मेरा पूरा लंड उनके चूत मे. ओर आहह रही थी. फिर मैने धक्के देना स्टार्ट किया. ओर में 30 मिनट तक उनको चोदता रहा. फिर इस दौरान वो 3 बार झड़ी. फिर मैने कहा दीदी में भी आ रहा हूँ.. दीदी ने कहा अंदर ही निकालो ओर थोड़ी देर मे में भी झड़ गया. जब में झेड रहा था दीदी मुझे ज़ोर से पकड़ी थी ओर बोली आह क्या एहसास है अपने भाई का अमृत लिया।

इसी तरह हमारे दिन बीत गये ओर में उन्हे हर वक़्त चोदता रहता. दिन मे 30 बार डेली. कुछ दिन के बाद माँ पापा आ गये तो तब हम रात मे चुदाई करते थे. फिर कुछ दिन बाद दीदी भी अपने ससुराल चली गई. फिर 1 माह बाद दीदी का फोन आया वो मुझसे बोली की राज तुम बाप बनने वाले हो.. ये सुनकर में बहुत खुश हुआ. फिर दीदी ने एक बेटी जो जन्म दिया जो बिल्कुल मेरे जैसी है. उसके बाद भी में ओर दीदी अक्सर चुदाई करते थे. दीदी अब फिर प्रेग्नेंट है. ओर ये भी मेरा ही बच्चा है. में फिर बाप बनने का वेट कर रहा हूँ।                   “Apna Lund Gift Kiya”

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!