बहन को चुदाई की गर्मी चढ़ी तो मैंने चोदा

(Bahan Ko Chudai Ki Garmi Chadhi Toh Maine Choda)

मेरा नाम मिहिर है और मैं एक सरकारी अध्यापक हूं। मेरा घर अहमदाबाद में है लेकिन मैं सूरत में पढ़ाता हूं और मुझे जब भी छुट्टी मिलती है तो मैं अपने घर चला जाया करता हूं। मुझे अहमदाबाद में पढ़ाते हुए बहुत वर्ष हो चुके हैं और मैं तब से यहीं पर हूं। मेरी एक छोटी बहन भी है। जिसकी शादी अभी कुछ वर्षों पहले ही हुई है। उसकी शादी सूरत में हुई है और जब उसकी शादी हुई तो हम लोग बहुत खुश थे। जब वह कॉलेज में थी तो वह पढ़ने में बहुत ही अच्छी थी और मेरे पिताजी उसे बहुत ही प्यार करते थे और मेरी मां भी उसे बहुत प्यार करती है। Bahan Ko Chudai Ki Garmi Chadhi Toh Maine Choda.

मुझे तो बहुत लोग पहले से ही बहुत ही सीधा समझते थे। इस वजह से वह लोग मुझसे ज्यादा बात नहीं किया करते थे। मैं भी घर में इतनी ज्यादा बात नहीं किया करता था लेकिन मेरी बहन दीक्षा से सब लोग बातें किया करते थे और हमारे घर में जितने भी लोग आते थे वह सब दीक्षा से ही बातें करते थे। मैं उन लोगों से ज्यादा बात नहीं किया करता था लेकिन दीक्षा और मेरे बीच बहुत ही अच्छी बॉन्डिंग थी और वह मुझे बहुत ही अच्छे से समझती थी।                    “Bahan Ko Chudai Ki Garmi”

एक बार मैं अपने घर पर ही था तो मेरी मां ने मुझे सामान लेने के लिए बाहर भेज दिया। तो मैं जैसे ही बाहर अपनी बाइक से गया तो मैंने दीक्षा को एक लड़के के साथ देखा लेकिन मैंने उसे उस वक्त वह बात नहीं कही और जब वह घर आई तो मैंने उसे समझाया कि तुम ऐसे ही किसी लड़के के साथ मत घूमा करो। वह कहने लगी कि मैं उस लड़के से प्रेम करती हूं। मैंने उसे कहा कि तुम अभी इन चक्करों में मत पड़ो। तुम पढ़ने में बहुत अच्छी हो और तुम सिर्फ अपनी पढ़ाई में ध्यान दिया करो लेकिन वह कहने लगी कि मुझे उसी से शादी करनी है और वह भी मुझसे शादी करना चाहता है। अब मैंने उसे बहुत समझाया लेकिन वह समझने को बिल्कुल तैयार नहीं थी। मैंने उसे यह भी कहा कि यदि यह बात पापा मम्मी को पता चलेगी तो वह लोग बहुत गुस्सा हो जाएंगे और शायद वह लोग तुमसे बात भी ना करें। वह कहने लगी कि आकाश उस तरीके का लड़का नहीं है। वह बहुत ही अच्छे परिवार से हैं और बहुत ही अच्छा लड़का है।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Sexy Didi Ki Chut Chudai Ki Jabardasti

दीक्षा ने मुझे कहा कि आप भी उससे मिल सकते हैं। मैंने उसे कहा ठीक है तुम एक काम करना उसे मुझ से मिला दो। यदि मुझे वह अच्छा लगा तो मैं घर में तुम्हारी बात कर लूंगा। अब एक दिन वह मुझे अपने कॉलेज में ले गई और उसने मुझे आकाश से मिलवाया। मैंने उससे उसके बारे में पूछा तो मुझे पता चला कि उसके पिताजी एक बहुत बड़े डायमंड व्यापारी है और वह उनका इकलौता लड़का है। मुझे तब यह सुनकर बहुत अच्छा लगा कि उसका परिवार एक शहर का संपन्न परिवार है। फिर मैंने उसे कहा कि चलो ठीक है तुम लोग आपस में बात कर लिया करो और जितना जल्दी हो सके तुम लोग शादी कर लो। मैं इस बारे में घर में बात कर लूंगा। आकाश ने भी मुझ से पूछा कि आप क्या करते हैं। मैंने उसे बताया कि मैं एक अध्यापक हूं और स्कूल में पढ़ाता हूं। अभी कुछ समय के लिए मैं घर आया हुआ हूं और मैं अहमदाबाद में रहता हूं। अब मैंने उनकी बात घर में कर ली और मेरे पिताजी को आकाश बहुत पसंद आया और उन्होंने उसकी शादी की बात तय कर ली। क्योंकि उसके पिताजी एक बहुत बड़े जाने माने व्यक्ति थे। इस वजह से मेरे पिताजी भी मना नहीं कर पाये। उन्होंने इस रिश्ते के लिए हां कह दिया।                                    “Bahan Ko Chudai Ki Garmi”

वो लोग बहुत बड़े परिवार से थे इसलिए हमने भी शादी में कोई कमी नहीं की और बहुत अच्छे से हम लोगों ने शादी की। हमने बिल्कुल भी कोई कमी नहीं छोड़ी। लोग भी हमारे अरेंजमेंट से बहुत खुश हुए और कहने लगे कि आपने बहुत ही अच्छे से बंदोबस्त किया था। हमें किसी भी प्रकार की कोई शिकायत नहीं हुई। अब दीक्षा भी आकाश के साथ बहुत खुश है। अब दोनों बहुत अच्छे से रहते हैं और मुझे जब भी दीक्षा फोन करती है तो कहती है, आकाश मुझे बहुत ही अच्छे से रखता है और मैं उसके साथ बहुत ही खुश हूं। मैंने उसे कहा तुम दोनों खुश रहो हम लोग यही चाहते हैं लेकिन अब काफी समय हो चुका है जब मैं दीक्षा से नहीं मिला हूं। तो एक दिन मैंने उसे फोन करके बोला कि तुम घर आने वाली हो क्या। वह कहने लगी मैं शायद इस हफ्ते घर आऊंगी। तो मैंने उसे कहा कि मैं भी कुछ दिनों के लिए छुट्टी लेकर घर आने वाला हूं। मैं जब छुट्टी लेकर घर गया तो दीक्षा भी घर में थी। उसने मुझे देखते ही गले लगा लिया और बहुत ही खुश हुई। कहने लगी मैं बहुत खुश हूं कि आप अपनी छुट्टी लेकर घर आ गए। अब हम दोनों बहुत बातें करने लगे की वह मुझसे मिलकर बहुत खुश थी।          “Bahan Ko Chudai Ki Garmi”

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  गर्लफ्रेंड ने अनल सेक्स करने दिया गरम होकर

वह अपने कमरे में अपने पति से फोन पर बात कर रही थी और कुछ देर बाद वह फोन सेक्स करने लगी तो वह बहुत ही उत्तेजित हो उठी। मैं जैसे ही उसके कमरे में गया तो वह फोन सेक्स कर रही थी। मैंने उसे कहा तुम यह क्या कर रही हो वो कहने लगी भैया मैं फोन सेक्स कर रही हूं मुझसे रहा नहीं जा रहा था इसलिए मैं अपनी चूत मे उंगली को डालकर आकाश से फोन पर बात कर ली मुझे उसकी जरूरत थी। मैंने तुरंत ही उसे पकड़ लिया जब मैंने उसे कसकर पकड़ा तो वह बहुत ही ज्यादा चिल्लाने लगी और मुझे कहने लगी कि आपने तो मुझे कुछ ज्यादा ही कसकर पकड़ लिया है। मैंने तुरंत ही उसके होठो को किस करना शुरू किया और उसके होठों को बहुत अच्छे से किस कर रहा था। मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था जब मैं उसके होठो को किस कर रहा था। तब उसने भी मेरे होठों को किस करना शुरू कर दिया और उसे भी बिल्कुल नहीं रहा जा रहा था। मैंने उसकी गांड को कस कर दबा दिया। उसके बाद मैंने उसे वही बिस्तर में लेटाते हुए तुरंत ही उसकी चूत के अंदर अपने मोटे लंड को डाल दिया तो वह चिल्लाने लगी और कहने लगी भैया आपने तो मेरी चूत फाड दी है। आपका लंड तो कुछ ज्यादा ही मोटा है मैं उसे ऐसे ही बड़ी तेजी से चोदना पर लगा हुआ था।

वह मुझे कह रही थी कि मुझे तो बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है अब उसे बहुत ही ज्यादा मज़ा आने लगा। वह भी मेरा पूरा साथ देने लगी थोड़ी देर बाद मैंने उसके चूत से अपने लंड को बाहर निकालते हुए। उसे अपने ऊपर से लेटा दिया जब मैंने उसे अपने ऊपर से लेटाया था तो वह जैसे ही मेरे लंड पर बैठी तो वह चिल्ला उठी। मैंन उसे बड़ी तेज धक्के मारने शुरू कर दिए। मैं उसे इतनी तीव्र गति से चोद रहा था कि उसका शरीर पूरा गरम हो गया और मैं उसे बहुत अच्छे से धक्के दिए जा रहा था। वह अपने चूतडो को ऊपर नीचे कर रही थी उसे भी बहुत ज्यादा आनंद आ रहा था। जब वह अपने चूतडो को ऊपर नीचे करती जाती तो उसका शरीर पूरा गर्म हो चुका था और  मेरा शरीर भी पूरा गर्म हो चुका था। मुझसे भी बिल्कुल बर्दाश्त नहीं हो रहा था लेकिन फिर भी मैं उसे ऐसे ही धक्के दिए जा रहा था और वह भी अपने चूतडो को ऊपर नीचे करती जा रही थी।                       “Bahan Ko Chudai Ki Garmi”

हिंदी सेक्स स्टोरी :  माँ को नचाकर दोस्त ने चूत पेला

अब मैंने उसके बड़े बड़े स्तनों को अपने मुंह के अंदर समा लिया और जैसे ही मैंने अपने मुंह में लिया तो वह बहुत ज्यादा खुश हो गई हो। मैं अब उसे ऐसे ही तेज गति से धक्के दिए जा रहा था वह बहुत खुश हो रही थी। मैं भी उसे बहुत धक्के दे रहा था थोड़ी देर बाद उसकी चूत से कुछ ज्यादा ही गर्मी बाहर निकलने लगी।  मैंने अपने लंड को बाहर निकालते हुए दीक्षा के मुंह में डाल दिया और मैंने जैसे ही उसके मुंह में डाला तो मेरा माल गिरने वाला था। जब मेरा माल गिरा तो उसने मेरा माल निगल लिया। वह बहुत ही ज्यादा खुश हो गई उसके बाद जब वह हमारे घर आती तो मेरे साथ सेक्स संबंध बनाती है। वह मुझे जब भी फोन करती थी तो कहती थी हम लोग कब मिलने वाले हैं। मैं कई बार उसके घर उससे मिलने भी जाया करता था और वहां पर भी मैं उसके साथ  सेक्स संबंध बनाता था।              “Bahan Ko Chudai Ki Garmi”

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!