चचेरी बहन की जवानी लूटी-2

Chacheri bahan ki jawani looti-2

फिर जब अगले दिन में उठा तो देखा वो जल्दी ही उठकर मम्मी के साथ बाहर चली गई.  में भी उठकर तैयार हुआ और लंच लेकर रूम में आया तो मम्मी और मेरी बहन दोनों बाहर से वापस आ गई थी और अब में अपनी कज़िन से नज़रे भी नहीं मिला पा रहा था.. लेकिन फिर भी मैंने उससे बात करने की कोशिश की.. लेकिन वो गुस्से में होने की वजह से बात नहीं कर रही थी और अब उसने गेस्ट रूम में सोना शुरू कर दिया था.. यह सब एक सप्ताह तक चला.

फिर एक दिन में बहुत थका हुआ था और थोड़ा देर से घर पर आया तो तब तक घर के सब लोग सो गये थे और में सुबह अपने साथ घर की एक चाबी ले जाना भूल गया था. तो मैंने उसे कॉल करके दरवाजा खोलने को बोला और फिर वो उठकर आई और उसने दरवाजा खोला तो में अंदर गया, फ्रेश हुआ. उसने पूछा कि क्या में खाना लगा दूँ? तो मैंने मना कर दिया और सीधा अपने रूम में सोने चला गया. उस टाईम रात के एक बज रहे थे और में बहुत थका हुआ था तो मुझे बेड पर लेटते ही नींद आ गई और थोड़ी देर के बाद मुझे ऐसा महसूस हुआ कि कोई मेरे पास लेटा हुआ है और कोई मुझको सहला रहा था.

में डर के मारे उठ गया और मैंने देखा कि मेरी बहन मेरे पास लेटी हुई थी और वो मुझे सहला रही थी. मैंने उससे पूछा कि तुम यहाँ पर कैसे आई? तो उसने कहा कि आप बहुत थके हुए थे और मुझे नींद भी नहीं आ रही थी तो में आपके पास आपसे बात करने आ गई.. लेकिन मैंने देखा कि आप तो सो गये थे और मैंने सोचा कि आपको उठाकर परेशान नहीं करूँ. मैंने कहा कि तुम मुझे उठा देती ऐसी कोई बात नहीं है.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Didi Chudi Rat Bhar Mere Sath – Hindi Sex Story

फिर उसने मुझे कहा कि आप लेट जाओ फिर हम बात करते है और हम दोनों एक साथ बेड पर लेट गये. तो उसने मुझसे कहा कि आप उस दिन मेरे साथ वो सब क्यों कर रहे थे? तो मैंने उसे सॉरी कहा और कहा कि मुझे पता नहीं उस दिन क्या हुआ और मुझे तुम्हारी बॉडी अपनी और आकर्षित कर रही थी और मुझसे रहा नहीं गया और एकदम सच कह रहा हूँ.. श्वेता में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और मेरा कोई इरादा नहीं था कि में तुम्हारे साथ ऐसा कुछ करूं. फिर वो मेरे पास आ गई और मुझे अचानक मुझे हग कर लिया और कहा कि भैया में भी आपसे बहुत प्यार करती हूँ.. लेकिन यह सब करना सुरक्षित भी नहीं है और अगर में प्रेग्नेंट हो गई तो?

यह सब सुनकर तो मेरे भी होश उड़ गये कि श्वेता यह क्या बोल रही है? मैंने उसे कहा कि प्रेग्नेंट.. तुम यह सब क्या सोचने लगी हो? तो उसने कहा कि भैया मुझे भी यह सब करने का बहुत मन करता है.. लेकिन मेरे फ्रेंड में कोई भी लड़का नहीं है और आप मेरे बहुत करीब हो तो में चाहती हूँ कि आप मेरे साथ यह सब करो.. लेकिन मुझे डर सिर्फ इस बात का है कि घर पर किसी को पता ना लगे और में सेक्स के चक्कर में प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती हूँ. तो मैंने उसे समझाया कि ऐसे कोई प्रेग्नेंट नहीं होता तो उसने कहा कि में आपको मेरे साथ वो सब करने दूँगी.. लेकिन चुदाई नहीं करने दूँगी क्योंकि में चाहती हूँ कि मेरी शादी के बाद मेरा पतिं ही मेरी सील तोड़े. तो मैंने उसे और ज़ोर से हग किया और उसके होंठ पर आने होंठ रख दिए और 30 मिनट तक जबर्दस्त स्मूच किया.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Chachi ki ladki ki chudai

फिर उसने मुझे खुद से अलग किया और अपना टॉप और ब्रा उतार फेंकी और मुझे वापस अपनी तरफ खींचा और मेरा मुहं अपने एक बूब्स पर रखकर ज़ोर से दबा दिया. में भी मज़े से उसके बूब्स चूस रहा था और उसके निप्पल को काट रहा था.. मेरे निप्पल काटने की वजह से वो बोली.

श्वेता : अहह भैया प्लीज़ धीरे करो.. में कहीं भागी थोड़ी ना जा रही हूँ अह्ह्हह्ह्ह प्लीज़ आईईईईई प्लीज धीरे भैया.

में : काटने में ही तो मज़ा है मेरी प्यारी बहन.. कुछ देर बाद तुम्हे भी मज़ा आएगा.

फिर में एक हाथ से उसके दूसरे निप्पल को खींच रहा था और मसल रहा था और दूसरे हाथ से उसकी गांड में ऊँगली कर रहा था.

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

श्वेता : भैया अहह उह्ह्ह प्लीज बाहर निकालो अपनी ऊँगली मेरी गांड से.. अह्ह्ह बहुत दर्द हो रहा है.

मैंने उसका पयज़ामा भी उतार फेंका और उसकी एकदम रसभरी चूत के दर्शन किये.. लेकिन उसकी चूत पर झांटो का जंगल था.. मैंने उसे बेड पर सीधा लेटाया और उसके दोनों पैरों को फैलाया और उसकी चूत को अपने मुहं में भर लिया. चूत मुहं में लेते ही शेवता ने मेरे सर को पकड़कर और भी आगे किया और एकदम उसकी चूत से चिपका दिया. तो मैंने भी अपनी जीभ से उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया और श्वेता ने ज़ोर जोर से मोन करना शुरू कर दिया और वो सिसकियाँ लेने लगी और मेरे चूत पर जीभ घुमाने से एकदम मचल रही थी.

श्वेता : आअहह भैया यह क्या कर रहे हो आप? आईईइ उफ्फ्फ्फ़ बहुत ही अच्छा लगा रहा है.

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Nurse behan ko choda akeli ghar me-1

फिर में उसे 69 पोज़िशन में लाया और अपना लंड उसको चूसने को कहा और वो मेरे लंड को अपने मुहं में लेकर ज़ोर ज़ोर से अंदर बाहर करके चूसने लगी और में उसकी चूत में ऊँगली करने के साथ उसने बूब्स भी चूस रहा था और 20 मिनट चूसने के बाद जब में झड़ने वाला था तो मैंने उसके बालों को अपने दोनों हाथों से पकड़ा और अपने लंड को उसके मुहं के अंदर तक ज़ोर ज़ोर से धक्के देते हुए अपना वीर्य उसको पिला दिया.

श्वेता : आहह भैया आपका वीर्य तो बहुत स्वादिष्ट है.

तो मैंने कहा कि अब तो तुम्हे रोज़ ही मेरा वीर्य पीना है और उसे फिर से स्मूच कने लगा और मैंने उसे अपने ऊपर आने को कहा और उसकी चूत को अपने मुहं पर रगड़ने को कहा और उसने भी वैसा ही किया फिर मैंने 15 मिनट उसकी चूत चाटी और दो बार उसकी चूत का पानी पिया. फिर हम उठे और एक दूसरे को साफ करके वापस एक ही कम्बल में नंगे सो गये.

दोस्तों यह सब दो सप्ताह तक लगातार और चला फिर एक दिन वो वापस अपने घर चली गई.. लेकिन जब भी मुझे टाईम मिलता तो में किसी काम से उदयपुर उसके घर पर जाता हूँ और उसके साथ एक रात गुजारकर आता हूँ ..

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!