होटल में करी किरन की चुदाई 2

Hotel me kari kiran ki chudai-2

किरन – मैं जानती हूँ तुम मुझे यहाँ क्यों लाये हो। ये सब सही नहीं हैं।

मैं – अरे, मेरी जान तुम तो सब जानती हो पर घबराओ मत हम वो नहीं करेंगे जो तुम सोच रही हो। अब अन्दर चलो।

मैं उसको मना कर कमरे में ले गया।

कमरे में जाकर तुरन्त उसको पकड़कर जोर-जोर से किस करने लगा। वो भी मेरा साथ दे रही थी।

मैंने उसके होंठ चूस-चूस कर लाल कर दिये थे।

उसके बाद किस करते-करते मैंने उसके टॉप के अन्दर हाथ डाल दिया और उसके बूब्स सहलाने लगा। फिर मैंने उसके टॉप को उतार दिया। लाल ब्रा में उसके बूब्स कमाल के लग रहे थे।

अब उसकी नाभी चूमता हुए उसके ब्रा का हुक खोल दिया और उसकी ब्रा को उससे अलग कर दिया।

उसने शर्मा के अपने हाथों से अपने बूब्स को ढक लिया। मैं फिर दोबारा उसके होंठ चूसने लगा। फिर उसने अपने हाथ अपने आप ही हटा लिए।

उसके बूब्स देखकर मैं मदहोश हो गया और उसके बूब्स बेतहाशा चूसने लगा।

वो सिसकने लगी आह… उफ़… आ… आ… ओ गोड…

धीरे से मैंने उसकी जीन्स उतार दी। उसकी फूलों वाली पैन्टी क्या कमाल लग रही थी।

उस पर भी मदहोशी अब पूरी तरह चढ़ चुकी थी पर फिर भी वो कहने लगी – राहुल, प्लीज ये सब बंद करो और चलो यहाँ से।

मैं – किरन, मुझे मत रोको… और इतना कह कर मैंने उसकी पैन्टी भी उतार दी। चूत पर थोडे से ही बाल थे।

पर ये क्या, उसकी आँखों से आँसू बह निकले। ये देख कर मैं थोड़ा रूका और उसको समझाया…

मैं – किरन, आई लव यू सो मच। मैं तुमको छोड कर कहीं नहीं जाऊँगा, आई प्रोमिस।

फिर उसको किस करने लगा और एक हाथ से उसकी चूत को सहलाने लगा। अपनी एक उंगली उसकी चूत में धीरे-धीरे से अन्दर-बाहर करने लगा।

फिर जब उसको थोड़ा मजा आने लगा तब मैं उसके होंठ छोडकर उसकी चूत पर आ गया।

उसकी चूत को अपनी चीभ से चाटने लगा।

किरन की सिसकारियाँ निकलने लगी और वो आ… आह… ओ… राहुललललल… ओ… गोड… अहा…

मैं अपनी जीभ से उसकी चूत को सहलाने लगा, वो मस्त होकर आवाज़ निकाल रही थी।

किरन – मुझे अपना बना लो राहुल, प्लीज मुझे अपना बना लो। मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकती हूँ।

मैं – तुम मेरी हो किरन, सिर्फ मेरी और आज मैं तुमको अपना बना लूँगा।

किरन – आज से अभी से तुम्हारी बीबी हूँ। मुझे अपनी बीवी की तरह चोद दो राहुल, प्लीज।

मैं – मेरी बीवी जो कहेगी मैं वहीं करूँगा और आज अपनी बीवी की पहली हसरथ पूरी करूँगा।

ये कह कर मैंने अपने कपड़े फटाफट उतार फेंके और अपना 7 इंच लम्बा मोटा खड़ा लंड उसके हाथ में दे दिया। मेरा लंड देख कर वो थोड़ा सहम सी गयी।

किरन – राहुल, तुम्हारा काफी मोटा और लम्बा है मैं ये नहीं ले पाऊँगी।

मैं – अरे, मेरी जान ये तुम्हारा है और इसको तुम्हारी चूत में फिट करने की जिम्मेदारी मेरी है, तुम्हारी इस प्यारी सी बड़ी चूत में बडे आराम से फिट हो जायेगा और तुमको इतना मजा आयेगा कि तुम मेरा लंड हमेशा याद रखोगी।

किरन – तो फिर जल्दी से इसे मेरे अन्दर डाल दो।

मैं – तुम्हारे अन्दर किस में डाल दूँ।

मैं उसके मुँह से सुनना चाहता था।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

किरन – ओ हो… अब जल्दी से मेरी चूत में डाल दो।

मैं – तम्हारी चूत में क्या डालूँ?

किरन – अबे, अपना लण्ड डाल दे मेरी चूत में और क्या डालेगा?

उसकी चूत की आग ने उसे और भडका दिया था।

मैं – अभी लो मेरी जान, अभी तुम्हारी चूत का भोसडा बनाता हूँ।

फिर क्या था, मैंने उसकी टांग फैला कर उसकी गाण्ड के नीचे तकिया लगा दिया और उसकी चूत पर खूब सारा थूक लगाया और अपना लण्ड पकड़ उसकी चूत पर फिट कर दिया।

मैं – तैयार हो ना मेरी जान? डाल दूँ अन्दर?

किरन की हाँ सुनकर मैंने अपने लण्ड का सुपाड़ा एक जोरदार झटके के साथ अन्दर कर दिया।

किरन – उफ़… मम्मी… मर गई… बाहर निकालो… प्लीज… राहुल, इसे बाहर निकालो।

उसके आँसू देखकर मैं थोड़ा रूका, मैंने देखा वो बुरी तरह कराह रही थी। मैंने अपने लण्ड को ऐसे ही रहने दिया और उसके बूब्स को और उसकी निप्पल को सहलाने लगा।

जब वो थोड़ा शांत हुई मैंने एक गहरी सांस भरी और एक और झटका दिया।

वो इस झटके के लिए तैयार नहीं थी बहुत तेज चीख़ उठी। पूरा कमरा उसकी चीख़ से गूंज उठा।

किरन – आह… मम्मी… आ… आ… हहहहह…

मैं दोबारा रूका और फिर उसके निप्पलों को चूसने लगा।

कुछ मिनट बाद जब वो थोड़ी चुप हुई तब मैंने कहा – किरन, बस थोड़ा सा रह गया हैं थोड़ा और सब्र कर लो।

उसने सिसकते हुये कहा – मैंने कहा था ना मैं नहीं ले पाऊँगी, तेरा लण्ड बहुत बड़ा है।

मैं – अरे, मेरी जान बस 1।5 इंच रह गया।

किरन ने अपना हाथ लगा कर ये जानने की कोशिश की कि कितना रह गया और जब उसने टटोला तो उसे पता चला कि अभी तो आधा रह गया हैं।

तो क्या आप जानना नहीं चाहेंगे कि आगे क्या हुआ, क्या उसने मुझे चुदाई पूरी करने दी या नहीं…

जानने के लिए इंतज़ार करें अगले भाग का…

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!