अपनी माँ को पूरी रात बारिश में चोदता रहा-2

Maa ko barsat mein choda-2

फिर मम्मी ने कहा कि उनका शरीर दर्द कर रहा ह बहन होती तो मालिश कर देती तो मैन कहा कोई बात नही मैं मालिश कर दूंगा मम्मी मुस्कराते हुए है बोली अब मुझे मम्मी को छूने का मौका मिला।

मैं गया और सरसों का तेल लाया और उनके पैरों से सारी ऊपर किया और पैरों में तेल लगाया फिर उन्होंने हाथो की तरफ इशारा किया मैं गया हाथो पे भी लगा दिया दोस्तो मैं तो मम्मी के जिस्म के मजे ले रहा था और बहाना बना रहा था कि मलिश कर रहा हूँ फिर मम्मी ने कंधो पे कहा तो मैंने जान बूझकर थोड़ा सा तेल सारी पर लगा दिया तो मम्मी ने कहा साड़ी हटा तो नही तो गंदी हो जाएगी मैन हटा दिया फिरसे थोड़ा सा तेल उनके ब्लाउज पे गिराया और कहा मम्मी आपका ब्लाउज गंदा हो गया हटा दू तो ममी न है बोलै मैन जैसे ही ब्लाउज हटा ममी पीछे मुड़ गयी और कहा पीठ पे भी लगा दो मैने ब्लाउज पूरा हटा दिया और सारी साइड में कर दी अब मम्मी ऊपर से बिल्कुल नंगी थी मैन पूरा पीठ पे हाथ रगड़ा फिर मुझे महसूस हुआ कि मम्मी सो गई मैनी थोड़ा तेल हाथो में लेकर बूब्स (चुचिया )पे लगाया मम्मी ने लंबी सांस ली और छाती फुला दिया अब मैं उनकी चुत्तर पे बाथ गया क्या गदगद चुत्तर था और मेरे हाथ उनके दोनों बूब्स पे थे मैं उन्हें पूरे जोर से मसल रहा था ।

उसमें मुझे बहोत आनंद आ रहा था तभी मम्मी जाग गयी वास्तव में वो बस सोने का नाटक कर रही थी और बोली तू अभी भी कंधा ही मालिश कर रहा ह थोड़ा कमर भी कर करदे तभी उनकी नजर मेरे पेंट पे गयी और देखा कि थोड़ा सा तेल लगा हुआ है और मेरा लन्ड पूरा साफ दिखाई दे रहा ह की वो खड़ा है वो बोली अरे तेरे पैनट गंदा हो गया खोल दी मैं भी बेचैन था मैंने उत्तर दिया फिर से मम्मी सोने का नाटक करने लगी अभी मम्मी करवट बदल कर सीधा हो चुकी थी मैंने साड़ी की गांठ खोली और सारी और साया दोनो हटा दिया धीरे से अब मम्मी मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी उनकी मस्त चुत्तर के दर्शन हुए ।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  चौकीदार के साथ सेक्स किया मम्मी ने अकेले

बाहर बारिश भी हो रही थी जो अब तेज हो गयी मैन पूरे शरीर पे तेल लगाया और पूरा शरीर का मालिश किया और फिर मैं भी नंगा हो गया और मम्मी के ऊपर लेट गया और कसमसाने लगी सिसकिया लेने लगी उह आन्ह उम्म आन्ह अब मुझसे सबर नही हूँ मैन अपने लन्ड का टोपा खोला और उसपर तेल लगाया मम्मी की टंगे फैलाई और मम्मी के चूत पे रखा उन्होंने जोर से सांस ली मैं समझ गया वो भी इसी का इंतज़ार कर रही थी मैने थोड़ा सा तेल उनकी चूत पे लगाया उनको होठो एप हल्का किश करके अपने लंड को पूरे जोर से चूत में दे मारा मेरा 7 इंच का लंड एक बार मे ही अंदर घुस गया अब सोने का नाटक कर रही मम्मी ने जोर से चीख मारी और बोली मादरचोद ये क्या कर रहा है मैन सबसे पहले तो उनके होठो को चूम और एक जोरदार लंबी किश किया अभी मेरा पूरा लंड उनकी चुत में था मुझे थोड़ा दर्द हो रहा था क्योंकि मैंने जीवन मे पहली बार किसी की चूत में लंड दिया था ।

दोस्तो थोड़ा कल्पना कीजिये आप पहली बार किसी खूबसूरत औरत को चोद रहे हो आपका पूरा लंड उसकी चुत में आपके होंठ उसके हाथ को जकड़े हुए हो आप अपने हाथों से उसके बूब्स मसल रहे हूँ कैसा अनुभव होगा आपको मुझे भी स्वर्ग जैसा अनुभव हो रहा था मम्मी की वो मुलायम रसदार चुत । अब मैने मम्मी के होठो को छोड़ा तो मम्मी बोली छि अपनी माँ को चोद रहा है तो मैने बोला कि अब तुम मुझसे चुदने को बेताब थी तो। मुझे बरदास नही हुआ मेरे सामने चुत में उंगली कर रही थी तब शर्म नही आई । मम्मी मुस्कराते हुए बोली अब तेरा लन्ड इतना मोटा और बड़ा है कि मुझे दर्द ही रह है आराम से चोद । मैं बोला पापा आपको चोदते नही क्या जो आपको दर्द हो रहा है। वो बोली तेरा बाप मुझे रोज चोदता है पर मुझे उससे मजा नही आता क्योंकि उसका लन्ड बहुत छोटा है और तेरा लन्ड बहुत बड़ा है पहली बार इतना बड़ा लन्ड चुत में लिया है तो दर्द हो रहा ह लेकिन तू करता राह पहली बार मजा भी आ रहा है।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  मेरे मॉम-डैड की चुदाई-2

अब मैंने मम्मी के दोनों हाथों को फैला के अपने दोनों हाथों से पकड़ लिया कि वो हिले न और उनके चुचियो (बूब्स) को अपने मुह में लेके काटने लगा और मैं बहुत जोर जोर से चुत में लन्ड पेलने लगा मम्मी बहोत चीला रही तक मगर बाहर बारिश हो रही थी तो किसी को कुछ पता नही चल रहा था।

लगभग 10मिनट बाद मम्मी जोर जोर से कराहने लगी मैं समझ गया उनका वीर्य बाहर निकलने वाला है मैन और जोर लगाया जैसे ही मुझे अंदर गर्म पानी जैसा महसूस हुआ मैं अंदर लन्ड थोड़ी देर रोक दिया अब मम्मी संतुष्ट दिख रही थी मगर मेरा वीर्य अभी बाहर नही आया था । मम्मी मना करने लगा कि अब नही मगर मैं नजी रुका । मम्मी की चूत अब उनके रास से गीली होकर लसलसा रही थी जिससे मेरा लंड बहुत आसानी से अंदर बाहर हो रहा था । अब मुझे पहले सर भी ज्यादा मजा आ रहा था क्योंकि अब रसदार चुत में लंड था मेरा मम्मी ने मुझे धक्का दिया और रुकने को कहा मगर अब मैं पूरी तरह से आपना विर्य उनके चुत में डालना चाहता था क्योंकि मैं अब चारम सिमा पे था अब मैं ने जबरदस्ती उनके दोनों टैंगो को अपने कंधे पे रखा और बहो से जकड़ लिया ताकि वो मुझसे छूट न पाए ।

मम्मी को बरदास न होने के कारण वो छटपटा रही थी और आह आन्ह आन्ह आन्ह उँह उँह अंह उँह कर रही थी हाथ पैर मार रही थी मगर उनका हाथ मुझ तक नही पहुच पा रहा था लगभग 10मिनट तक मम्मी छटपटा रही थी फर मेरा वीर्य बाहर आने को हुआ मैन एक जोर का धक्का दिया मम्मी की चूत में और विर्य गिरने लगा चुत में ,अब मम्मी से रह नही किया उन्होंने बहोत जोर लगाया औए मेरे हाथों से उनका पैर छूट गया तभी मैन टांगे फैला दी मम्मी की और उनके ऊपर लेट गया फिर जोर का धक्का दिया लंड कोऔर विर्य की एक और धारा चुत में डाला उन्होंने मेरे बाल पकड़ के मुझे हटाना चाहा मगर मैन उनके हाथ पकड़ के फैला दिया अब मम्मी कुछ नही कर सकती थी बस चिलाने को मजबूर थी दर्द के कारण मैनी लगभग 5-10 बार ऐसा किया और हर बार विर्य चुत में डालता और मम्मी की चीखें मेरे मरदानगी का बड़ा सबूत थी अब मैं भी पूरी तरह थक गया था तो लंड अंदर ही रखके सोने लगा । मम्मी ने कहा तू कितना चोदेगा मुझे अब तो मेरी चुत भी फट गई है अब तो बाहर निकल ले लंड ।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  Meri sex fantasy maa ne puri ki

आज तक तेरा इतना विर्य कभी नही निकला जितना आज निकाला । तभी मैंने कहा मेरा विर्य आज इतना ज्यादा निकल आपको कैसे लाता मैं तो आपको पहली बार चोद रहा हूँ । तभी मम्मी ने बताया कि कैसे वो मुझे मुठ मारते देखा करती थी छुप छुप कर । यह जानकर मैं हैरान रह गया । फिर मम्मी ने बताया कि जब वो मेरे पैरों की मालिश करने आती थी जब मैं थक रहता था तो मालिश करवाते करवाते मैं सो जाता था और मम्मी मलिश करती रहती थी मेरे जांघो तक चूंकि मैं जवान था तो मेरे लंड का खयाल भी रखती थी वो लन्ड की भी मालिश करती थी जिससे मेरा लंड खड़ा हो जाता था और वो कभी उसपर मुठ मारती तो कभी उससे मुह में ले लेती और चाटती और जीभ से मालिश करती मतलब वो ब्लोजॉब देती और मेरा सारा विर्य पी जाती और कह रही थी कि बहुत मीठा लगता था तभी ।

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!