मेरी बीबी को मेरे भांजे ने कुतिया बनाकर चोदा-1

Meri biwi ko bhanje ne choda-1

हाय फ्रेंड्स, आप लोगो का HotSexStory.xyz में स्वागत है। मैं रोज ही इसकी सेक्सी स्टोरीज पढ़ता हूँ और आनन्द लेता हूँ। आप लोगो को भी यहाँ की सेक्सी और रसीली स्टोरीज पढने को बोलूंगा। आज फर्स्ट टाइम आप लोगो को अपनी कामुक स्टोरी सुना रहा हूँ। कई दिन से मैं लिखने की सोच रहा था।अगर मेरे से कोई गलती हो तो माफ़ कर देना।

मेरा नाम सत्या सिंह है। मैं अभी कैराना में अपनी बीबी के साथ रह रहा था। आपको बता दूँ की मेरी पहली बीबी जयश्री गुजर गयी थी। इसलिए मुझे दुबारा शादी करने पड़ी। मेरी दूसरी बीबी की नाम माही है। वो शादी शुदा औरत है। उसका पति गुजर गया था इसलिए वो विधवा हो गयी थी। अब मैंने उससे शादी की। दोस्तों मुझे जरा भी नही मालुम था की माही कितनी बड़ी चुदक्कड और अल्टर औरत है। मेरे साथ उसने क्या क्या किया आपको सब बात बता रहा हूँ। पिछले साल मैंने 2016 में मैंने माही से शादी कर ली। मैंने तो उसे एक सरीफ और घरेलु किस्म की औरत समझ रहा था पर मुझे नही मालूम था की उसके सेक्सी जिस्म के पीछे कितनी बड़ी रंडी छुपी हुई है।

माही का जिस्म काफी सेक्सी और भरा हुआ था। रंग काफी गोरा था जिसे देखकर मैंने उस रांड से शादी कर ली पर दोस्तों उसे रोज नया नया लंड खाने की आदत थी। शादी के बाद ही माही मुझे अपना रंग दिखाने लगी। मेरी गली में अम्बर नाम का एक आवारा लड़का घूमता था जो सदैव चूत के जुगाड़ में रहता था। मेरी बीबी माही ने उससे दोस्तों कर ली और चुदवा लिया जब मैं अपनी फक्ट्री में काम पर गया हुआ था। मैं एक लोहे के पार्ट्स बनाने वाली फक्ट्री में काम करता हूँ। जब कम पर गया था तब ही ये काण्ड हो गया। कुछ दिनों बाद आसपास वालो ने मुझे अम्बर और माही के प्रेम सम्बन्ध के बारे में बताया। ये पता चलते ही मैंने अपनी बीबी की खूब कुटाई की। उसके बाद वो “माफ़ कर दो सत्या!! दोबारा ऐसा नही करूंगी!!” बोलने लगी और घडियाली आंसू बहाने लगी।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  ससुर के बच्चे की माँ बनने बाली हूँ ये सब कैसे हुआ पढ़िए मेरी सेक्स कहानी

मुझे उस पर तरस आ गया और मैंने उसे माफ़ कर दिया। मैं सोचने लगा की शायद मैं उसे रोज नही चोद पाता हूँ इसलिए उसने बाहर के मर्द से अपनी चूत फड़वा ली। मैंने अपनी सेक्सी लेकिन बदचलन बीबी को माफ़ कर दिया और उस रात उसे खूब प्यार किया। उस रात माही ने मेरी फेवरिट मछली पकाई। मछली रोटी और चावल दोनों ने खूब प्रेम से खाया और दोनों दोनों बिस्तर पर आ गये। रात के 10 तो बज चुके थे। मैंने अपना बनियान कच्चा उतार दिया और माही को अपने पास बुला लिया।

“ये आप क्या कर रहे है जी??” मेरी बीबी माही पूछने लगी

“जान!! मैं फक्ट्री में काम करके इतना थक जाता हूँ की तेरे सुख का मुझे ध्यान ही नही रहता है। आज तुझे मैं भरपूर चुदाई का सुख दूंगा” मैंने कहा और धीरे धीरे अपनी चुदक्कड और अल्टर बीबी के ब्लाउस को खोलने लगा। दोस्तों माही की उम्र अभी सिर्फ 27 साल की थी। इकदम जवान आइटम थी। मैंने उसका ब्लाउस उतार दिया और सफ़ेद ब्रा में उसके दूध क्या जम रहे है। मेरी सेक्सी चुदासी बीबी का फिगर 36 30 34 का है जिसे देखकर किसी भी मर्द का लंड खड़ा हो जाए। सफ़ेद कसी कॉटन ब्रा में माही के तने नोंकदार कबूतर तो जैसे मेरी जान ही निकाल दे रहे थे। मैं हाथ से उसकी 36” की भरी चूचियों को मसलने और दबाने लगा तो माही “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा” करने लगी। मैं ब्रा के उपर से खूब मसला अपनी माल को। फिर वो भी चुदने को हो गयी।

“रुकिए जी!! ब्रा उतारती हूँ” माही बोली

उसने अपने हाथ से अपनी कसी ब्रा को उतार दिया। उसकी नंगी गदरायी दुधियाँ मस्त मस्त छातियों को देखकर मेरी नियत खराब हो गयी थी। दोस्तों सारा दोष मेरा ही था। जवान बीबी को महिना महिना चोदता ही नही था। तो बेचारी क्या करती। इसलिए उसने बाहर के मर्द से चुदवा लिया। मैंने दोनों हाथो से अपनी सेक्सी बीबी के दूध दाबना शुरू कर दिया। वो सिसकारी लेने लगी। उसकी दूध बिलकुल सफ़ेद है और बड़े कोमल है दोस्तों। सफ़ेद चूचियों के उपर काले काले चिकने गोले है जो बेहद सुंदर लगते है। मैं माही के कबूतर उसकी निपल्स को मुंह में लेकर चूसने लगा। वो “……अई…अई….अई……अई….इसस्स्स्स्स्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….” करने लगी।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  मां बहन की जवानी

आज मैं माही को चोद चोदकर उसकी आग शांत कर देना चाहता था। इसलिए मैं अच्छी तरह से चूस रहा था। उसकी दोनों दूध को मुंह से पकड़कर मुंह चला चलाकर चूस रहा था। खूब उसका रस पीया जिससे उसकी चूत रिसने लगी। आज मैं उसे परमसुख देना चाहता था। मैं माही के कबूतर को मुंह से पकड़कर उपर को खींच देता था किसी वक्युम क्लीनर की तरह। इस तरह करने से उसे दुगुना मजा आने लगा।

“मेरे पति देव!! मैं तुम्हारे लंड की प्यासी हूँ। आज मुझे चूत में अंदर तक चोद डालो” मेरी चुदक्कड बीबी माही कहने लगी

“कपड़े उतार साली!! आज तेरी अन्तर्वासना को शांत कर दूँ!” मैंने कहा

फिर माही ने जल्दी जल्दी अपनी साड़ी खोली। फिर पेटीकोट उतार दिया। उसकी आसमानी पेंटी पूरी तरह से पानी से भीग गयी थी। माही ने उसे भी उतार दिया। अब वो मेरे सामने दोनों टांग खोलकर लेट गयी। सिर से पाँव तक गोरा चिकना जिस्म देखकर मुझे उस गली के लौंडे से जलन होने लगी। बेटीचोद! ने मेरी सेक्सी बीबी को चोद लिया। कितना किस्मत वाला है। मैंने सोचा और फिर मुंह लगाकर माही की चूत का रस चाटने लगा। वो “अई…..अई….अई…अहह्ह्ह्हह…..सी सी सी सी….हा हा हा…”करने लगी।

मैंने आज अच्छी तरह से उसकी बुर चटाई शुरू कर दी। जल्दी जल्दी किसी हाँफते कुत्ते की तरह चाट रहा था। माही गर्म होकर अपना पेट उठाने लगी। दोस्तों उसकी चूत का पानी मुझे बड़ा मीठा लगा। बिलकुल चिकनी चूत थी। मैं अच्छी तरह से चाट रहा था। माही सी सी करती जा रही थी। अपने हाथ से बिस्तर की चादर को दोनों हाथो से पकड़कर मरोड़ रही थी। उसकी चिकनी चमेली को मैंने मन भरकर चूस डाला। उसके उपरान्त मैंने अपना 8” का मजबूत लौड़ा अपनी छिनाल बीबी के भोसड़े में दे दिया और उसकी ठुकाई शुरू कर दी। माही “….उंह उंह उंह हूँ.. हूँ… हूँ..हममममअहह्ह्ह्हह..अई…अई…अई…..” करने लगी।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मैं बहक गयी

मैंने भी आज तय कर लिया था की आज उसको कसके पेलना है वरना छिनाल कल को किसी दूसरे मर्द से चुदवा लेगी। मैंने उसके चूत के दाने में ऊँगली से थूक लगाकर गीला कर दिया और फिर ऊँगली से उसके बड़े से चूत के दाने को घिसने और छेड़ने लगा। साथ में जल्दी जल्दी उसकी बुर भी ले रहा था। माही“….उंह उंह उंह हूँ—करने लगी। दोस्तों रोज तो मैं जल्दी ही झड़ जाता था पर आज ऐसा नही किया। आज मैं दिमाग से खेल खेल रहा था। जब लगता की झड़ जाऊँगा लंड माही के भोसड़े से निकाल लेता और फिर 2 ऊँगली अंदर घुसा देता और चूत को फेट फेटकर बुरा हाल कर देता। माही“आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा—क्या आप मुझे मार ही डालोगे जी!!” कहने लग जाती थी। फिर मैं 5 मिनट तक उसकी चूत में पच पच घच घच ऊँगली चलाकर उसके भोसड़े का बुरा हाल कर देता। फिर से लंड उसकी चुद्दी में घुसा देता और फिर से ठुकाई स्टार्ट कर देता। दोस्तों इस तरह का जुगाड़ लगाकर मैंने अपनी चुदक्कड बीबी को करीब 2 घंटे चोदा और लंड निकालकर उसके मुंह पर माल की बारिश कर दी।

मुझे अलग तरह का सुकून मिला उसके मुंह में माल झाड़कर। कुछ देर बाद मैंने उसकी गांड चोदी। इस तरह से मैंने एक महिना एक रात भी नागा नही किया। रोज उसकी जबरदस्त चुदाई करता जिससे वो किसी गैर मर्द से न चुदाये और सिर्फ मुझसे ही अपनी चूत की खुजली दूर करवाये।

HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!