मेरी चूत के दीवाने ने पैसे देकर पेला मुझे

(Meri Chut Ke Deewane Ne Paise Dekar Pela Mujhe)

मेरा नाम कोमल है | मेरी उम्र 21 साल है | मेरी हाईट 6 फुट 5 इंच है | मैं 12 में पढ़ता हूँ | मैं अपने फिगर के बारे में बताना चाहुगी | मैं दिखने मैं सेक्सी हूँ | मेरे फिगर का साइज़ 38 34 40 है | मुझे चुदाई करवानी बहुत पसंद है | ये मेरी पहली कहानी है | मैं आशा करती हूँ की आप लोगो को पसंद आयेगी | अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय न लेती हुई सीधे अपनी कहानी पर आती हूँ | Meri Chut Ke Deewane Ne Paise Dekar Pela Mujhe

ये कहानी कुछ दिन पहले की है | जब मैं कॉलेज से घर आ रही थी तो मुझे एक लड़का बहुत ही सेक्सी नजरो से देख रहा था जैसे की वो मुझे चोद ही डालेगा | मैं अपने घर चली आई | दोस्तों मैं आप लोगो को बता देती हूँ की मैं किसी से भी चुदवा लेती हूँ | फिर मैं रात को सो गयी | जब मैं सुबह उठी तो तैयार हुई और कॉलेज चली गयी | मैं जब कॉलेज पहुची तो मैंने देखा की वहां पर कुछ लड़के आपस मैं कुछ बात कर रहे थे | उस भीड़ मैं मेरा आशिक अरमान भी खड़ा था | मैं ये देख कर वहां से चली गयी और अपने क्लास रूम मैं जाकर बैठ गयी | फिर क्लास टीचर आये और सबकी हाजरी लगा कर चले गए | मैं क्लास में बैठ कर ये सोच रही थी की वो लोग क्या बाते कर रहे थे | उसके बाद क्लास में टीचर आकर पढ़ाने लगे सब लोग बैठ कर पढ़ रहे थे |               “Meri Chut Ke Deewane”

पर मैं यही सोच रही थी की कब छुट्टी हो और मैं घर जाऊ | कुछ देर बाद मैं कॉलेज से घर के लिए निकली तब रास्ते मैं मुझे रिषभ मिला | उसने मुझे बताया की एक काम है जिसमे तुम्हे पैसे भी मिलेंगे पर तुमको रात में मेरी वाली छत पर आना है | तब मैं तुम्हे काम बताऊँगा | ये कहकर वो चला गया | मुझे भी क्या था | कोई भी काम हो पैसे मिले बस और मैं रात का इंतजार करने लगी | तभी मेरा मन अन्दर नहीं लग रहा था तो मैं छत पर चली गयी तो मैंने देख की रिषभ की छत पर 2 लड़के हैं उसमे से मेरा आशिक अरमान भी है | कुछ देर बाद वो सब चले गए | तब मेरे पास रिषभ आया और उसने मुझे बताया की कोमल तुम्हे रात के 1 बजे आना है | मेरे छत के ऊपर वाले कमरे मैं |

वो इतना बता कर चला गया | मैं रात होने का इंतजार करने लगी | मेरे सोचते सोचते रात हो गयी | मैं खाना खा कर अपने बिस्तर पर जाकर लेट गयी | उसके बाद मैं रात के 1 बाजने का इंतजार करने लगी | मेरे सोचते सोचते रात के 12 बज गए | तब मुझे नीद आ गयी और मै सो गयी | जब मेरी आंख खुली तो मैंने देखा की 4 बज रहें है | मैं फिर सो गयी और सुबह उठी तो मैंने छत पर जाकर देख तो रिषभ छत पर बैठा था | तब वो मेरे पास आकर बोला की तुम आई नहीं थी | तो मैंने उसे बतया की मैं रात के 12 बजे तक जगती रही और मुझे नीद आ गई तब मैं सो गयी | मेरी जब आंख खुली तो मैंने देखा की 4 बज रहे थे | तो रिषभ ने मुझे बताया की आज आ जाना | तब मैंने कहा की आज मैं जल्दी आ जाउंगी | फिर मैं अपने कॉलेज गयी |                     “Meri Chut Ke Deewane”

जब वहां से आई तो मैंने देखा की रिषभ छत पर बैठा है | मैं जाकर रिषभ से बोली रिषभ कितने रूपये मिलेंगे | तब उसने बतया तू आज आ जाना | फिर मैं घर में आई और खाना खा कर सो गयी | साम को ही जग गयी फिर मैं 1 बाजने का इंतजार करने लगी | जब 1 बज गया तो मैं चुपके से छत पर गयी और अपनी छत से रिषभ की छत पर चली गयी | जब मैं रिषभ की छत पर गयी | तो मैंने देखा की रिषभ बैठा है और रिषभ ने मुझे कमरे में जाने को कहा | तब मैं कमरे में गयी तो वहां कुछ भी दिखाई नही दे रहा था | पर मुझे लगा की कमरे में कोई है | फिर मैं कमरे में चुप चाप आगे बढ़ी तो मुझे किसी ने पकड कर मुझे किस करने लगा | मैं भी उसे किस करने लगी | फिर जब रिषभ ने लाइट जलाई तो मैंने देखा की वहां 2 लड़के थे | जिनमे से मेरा आशिक अरमान भी था | वो मेरी चूत का आशिक था | वो मुझे पहले भी चोद चूका था | फिर अरमान मेरे बूब्स को पकड कर दबाने लगा |                 “Meri Chut Ke Deewane”

एक मेरी होठो पर अपने होठ रख कर किस करने लगा | अरमान मेरे बूब्स को दबाते हुए मेरी चूत को कपडे के ऊपर से सहलने लगा जिससे मेरे मुंह से ऊउह्ह्ह ऊउफ़्फ़्फ़्फ़ अआः ऊउह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ आअह्ह्ह्ह य्य्ह्हह्ह ऊउह्ह्ह्ह ऊउह्ह ऊफ्फ्फ ऊउफ़्फ़ ऊह्ह्ह की सिसिकियाँ निकलने लगी | फिर मैंने उसके लंड को हाथ में पकड कर हिलाने लगी | उसके बाद उसने मेरे कपडे उतर दिए जिससे मैं ब्रा और पेंटी मैं आ गयी | अब वो मेरे बूब्स को पीने लगा अरमान मेरी चूत में अपनी ऊँगली घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा | मेरे मुंह से ऊह्ह ऊउफ़्फ़्फ़ आःह्ह ऊह्ह्ह्ह उफफ्फ्फ्फ़ आह्ह्हह्ह ऊउफ़्फ़्फ़्फ़ आअह्ह्ह्ह ईईह्ह्ह्ह ऊउईईइ ऊऊफ़्फ़्फ़्फ़ आअह्ह्ह्ह हूऊईइ आओऊ की सिसिकियाँ निकलने लगी | वो लड़का अपना लंड मेरे मुंह में रख कर चुसाने लगा | मैं उसके लंड को अपने मुंह में अन्दर बाहर करते हुए चूसने लगी | फिर उसने मेरे मुंह से अपने लंड को निकाल कर वो मेरी चूत को चाटने लगा जिससे मेरे मुंह से ऊउह्ह्ह ऊफ्फ्फ्फ़ आःह्ह उफ्फ्फ्फ़ आह्ह्ह ऊईइ ऊउह्ह्ह ऊउफ़्फ़्फ़ करती हुई | उसके बाद मेरा आशिक अरमान मेरे मुंह में अपने लंड को डाल कर अन्दर बाहर करने लगा | वो लड़का मेरी चूत में अपनी ऊँगली डाल कर अन्दर बाहर कर रहा था | फिर उसने ऊँगली निकाल कर मेरी चूत के मुंह पर लंड रख कर मेरी चूत में अपना लंड खुसा दिया | फिर धीरे धीरे धक्को के साथ मेरी चूत को चुदने लगा |

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

मेरे मुंह से उफ्फ्फ ऊह्ह्ह्ह आःह उफ्फ्फ्व उह्ह्ह्ह ऊउआअ आःह्ह ऊउफ़्फ़्फ़्फ़ उह्ह्हह्ह आःह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह की सिसिकियाँ लेती हुई चुदने लगी | अरमान मेरे मुंह को चोद रहा था | उसके बाद उस लड़के ने मेरी चूत से अपने लंड को निकाल कर मेरे मुंह के सामने आकर अपने लंड को हिलाने लगा और अरमान मेरी चूत में अपने लंड को डाल कर जोरदर खाक्को से मुझे चुदने लगा | वो लड़का मेरे मुंह में अपने लड़ को डाल कर अन्दर बहर करने लगा | फिर अरमान मेरे बूब्स को दबाते हुए | मुझे चोदने लगा जिससे मेरे मुंह से ऊह्ह्ह्ह ऊउफ़्फ़ आह्ह्ह ऊउफ़्फ़्फ़्फ़ आःह्ह ऊफ्फ्फ ऊह्ह ऊईइ आःह आह्ह्ह की आवाजे करते हुए | मैं चुद रही थी और उसने धीरे धीरे धक्के की स्पीड तेज कर दी जिससे कमरे में धक्को की आवाज घुजने लगी | अब मुझ मज़ा आने लगा था | मैं मस्ती में ऊउह्ह्ह आह्ह्ह्ह ऊफ्फ्फ ऊह्ह्ह आआह्ह ऊउह्ह्ह ऊउफ़्फ़्फ़ आआअ करती हुई चुद रही थी | फिर उसने मुझे अपनी बांहों में उठा कर मुझे अपने लंड पर बैठा कर चोदने लगा |                           “Meri Chut Ke Deewane”

मैं उसके लंड पर बैठ कर ऊपर नीचे होते हुए चुदने लगी | फिर उस लकड़े ने मेरी गांड में थोक लगा कर मेरी गांड में अपना लंड डाल कर धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा जिससे मेरे मुंह से हलकी हलकी आवाज में ऊउह्ह्ह ऊफ्फ्फ्फ़ ऊऊह्ह आह्ह्ह ऊह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उईई ऊउह्ह ऊउफ़्फ़्फ़ आआह्ह्ह्ह ऊउह्ह्ह ऊऊफ़्फ़्फ़ अआः ऊऊह्ह आआह्ह्ह करते हुई | मैं चुद रही थी | फिर अरमान ने मेरी चूत से अपना लंड निकाल कर मुझे बेड पर लेटा दिया और मेरे मुंह में अपना लंड डाल कर अन्दर बाहर करने लगा | वो मेरी गांड में जोर जोर से धक्का मार रहा था जिससे मेरे मुंह से धीमी धीमी आवाज में ऊउह्ह्ह ऊफ्फ्फ ऊह्ह्ह आःह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह्ह आह्ह्ह ऊह्ह्ह आअफ़्फ़्फ़्फ़ ऊऊफ़्फ़्फ़ आआह्ह्ह्ह ऊउईइ ऊउह्ह्ह की सिसिकियाँ ले रही थी | वो मेरी गांड में जोर जोर से धक्के मार कर मेरी गांड को चुद रहा था | मैं अपनी चूत में अपनी ऊँगली घुसा कर अन्दर बाहर कर रही थी |                “Meri Chut Ke Deewane”

फिर उसने मेरी गांड से अपने लंड को निकाल कर अपने लंड पर थोडा थोक लगाकर मेरी चूत में अपने लंड को गुसा कर जोर जोर के धक्के से चुदने लगा | फिर अरमान ने अपना लंड मेरे मुंह से निकल कर मेरी गांड में डाल कर वो भी धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा जिससे मेरे मुंह से ऊह्ह ऊउह्ह्ह ऊउफ़्फ़्फ़ आअह्ह्ह्ह ऊह्ह्ह आआह्ह्ह ऊउफ़्फ़्फ़्फ़ आआह्ह्ह्ह ऊऊफ़्फ़्फ़्फ़ उह्ह्ह ऊऊफ़्फ़्फ़ आआअह्ह्ह ऊउह्ह्ह्ह की सिसिकियाँ लेते हुए चुद रही थी | कुछ ही देर में अरमान अपना लंड मेरी गांड से निकाल कर मेरे मुंह से सामने करके मूठ मारने लगा | फिर उसके लंड ने सारा माल मेरे मुंह पर निकल दिया | वो लड़का अभी भी मुझे जोरदर धक्को के साथ चुद रहा था | मैं भी अपनी चूत को हीलाने लगी | तब उसने धक्को की स्पीड और तेज कर दी | जिससे मेरे मुंह से ऊउह्ह्ह ऊउफ़्फ़्फ़ आह्ह्ह ऊउफ़्फ़्फ़ आःह्ह करने लगी | कुछ देर तक वो मुझे जोरदर धक्को से चोदता रहा | फिर उसने अपना लंड मेरी चूत से निकाल कर अपने लंड से सारा माल मेरे पेट पर निकाल दिया |

उसके बाद मैंने अपने कपडे पहन लिए तब रिषभ ने मुझे 5000 हज़ार रुपये दिये | मैंने सोचा मज़ा का मज़ा मिला साथ में रूपये भी | इस तरह से मैंने अपनी गांड और चूत मरवाई |                           “Meri Chut Ke Deewane”