कमसिन साली, सास और बीवी तीनो चुदवाती है जबर्दश्ती

दोस्तों, इस सेक्स कहानी में आपको बताने जा रहा हूँ कैसे मैं अपनी कमसिन साली जिसकी चूचियां अभी निम्बू की तरह है। मेरी बीवी वो उससे मात्र २ साल बड़ी है और मेरी सास जो की अभी 39 साल की है कैसे मैं तीनो को खुश कर रहा हूँ। पर दोस्तों दो तक को मैं संतुष्ट कर देता हूँ पर एक को मैं संतुष्ट नहीं कर पा रहा हूँ। क्यों की एक इंसान दिन में तीन बार वो भी रोजाना कैसे चोदे कैसे रखे तीन-तीन को खुश चुदाई में। आप खुद सोचिये। अब मैं सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ। आखिर क्या हुआ था और क्यों हो रहा है। जो मुझे ये सब करना पड़ रहा है। और उन तीनो को भी करना पड़ रहा है।

मैं उप्र कर रहने वाला हूँ। मेरी पहली बीवी जो आज से छह महीने पहले ही किसी के साथ भाग गई है। मेरी शादी हुए ही 1 साल हुए थे पर वो मुझे छह मैंने में ही छोड़ गई। मैं ऊब गया था अपनी ज़िंदगी से मुझे जीने का भी मन नहीं करता था। मुझे लगा की अब मेरी शादी भी नहीं होगी। कौन लड़की मेरे से शादी करेगी। जिसको भी पता चलता की पहली भाग गई है तो सबसे पहले वो सोचता की शायद मैं चोद ही नहीं पाता था इसलिए ऐसा हुआ।

मैं दिल्ली से ही इंजीनियरिंग किया हूँ। अच्छे नौकरी भी है दिल्ली में फ्लैट भी है। अपने काम के लिए मैंने एक विधवा को काम पर रखा ताकि वो मेरी हाथ बटा दे। वो भी अच्छी पढ़ी लिखी है। धीरे धीरे मेरा उस विधवा के साथ सेक्स सम्बन्ध कायम हो गया। मेरे दिन अच्छे चलने लगे। वो दस बजे आ जाती थी मेरे फ्लैट पर हम दोनों काम करते थे पर वो आधे घंटे मुझे प्यार में ही फसाये रखती थी। मैंने एक दिन बोल दिया मेरे काम पर इफ़ेक्ट पड़ रहा है। इसलिए हम लोग चोद चुदाई थोड़ा कम कर लिया करें। वो मान भी गई।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  मूँगफली वाले ने मुझे माँ के साथ चोदा-2

पर एक दिन उसकी बेटी आई कुछ काम था उसको मम्मी से मैं देख कर हैरान रह गया। खूबसूरत इतना मैं आपको बयां नहीं कर सकता। गोरी लम्बे बाल खूबसूरत , भरा पूरा शरीर, गोल गोल सॉलिड चूचियां, गांड में उभार और कातिल नैन नक्श। मैं देखते ही अपना सुध बुध खो बैठा, जब वो चली गई तो उसकी मम्मी बोली क्या बात है। नजर नहीं हट रही थी। तो मैं झेंप गया कहने लगा अरे नहीं नहीं कोई बात नहीं। सुन्दर है इसलिए देख रहा था।

तब से ही वो मजाक करने लगी। और एक दिन मुझे शादी का प्रस्ताव दे दी। बोली की अगर आप मेरी बेटी से शादी कर लेते हैं। तो मेरी ज़िंदगी बन जाएगी। मुझे दामाद भी मिल जाएगा घर का गार्जियन भी और सच पूछो तो मेरा पति भी। एक जगह मुझे सब कुछ मिल जायेगा। मुझे बात में दम लगा एक इंसान को और क्या चाहिए मुझे भी पूरा परिवार मिल जाएगा।

बात पक्की हो गई। संडे को वो लोग आने वाले थे। और मैं भी संडे को तैयार हो गया। अब उन दोनों के साथ छोटी बेटी भी आ गई। वो पटाखा थी। गजब की बड़ी से भी हॉट छोटी। अब तो मैं मचल गया शादी करने के लिए और फिर हम दोनों ने आर्य समाज मंदिर में शादी कर लिए। ऐसे भी मेरे मम्मी पापा नहीं है। तो मुझे किसी से कुछ कहना भी नहीं था।

मैंने अपने सास साली और बीवी को बोला आप लोग सब इसी फ्लैट में रह जाओ। और वो लोग मान गए। शादी के दिन ही आ गए रहने। सुहाग रात में अपनी बीवी को निर्वस्त्र किया तो चूचियां और चूत ऐसे लग रहा था मानो मुझे सब कुछ मिल गया। गोरा बदन बड़ी बड़ी सॉलिड चूचियां चूत पर कुरदरती बाल नहीं। पूरा शरीर साफ़ जैसे मखमल की हो। खूब चोदा पूरी रात। चूत फाड़ कर रख दिया। चूचियां इतनी दबाई की पूरा चूची लाल हो गया सूज गया। होठ पर भी मैंने दांत काट लिए थे। पहले दिन उसने भारतीय नारी के तरह चुदवाई और मजे किये।

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।
हिंदी सेक्स स्टोरी :  दस लड़कियों की नंगी चूत

सुबह सास बोली दोनों बहनो को की मंदिर चले जाओ। मन्नत मांग लेना कभी साथ नहीं छूटे। तो मैं बोला मैं भी चला जाता हूँ इसके साथ। तो वो मना कर दी बोली अगल सप्ताह सब मिल कर जायेंगे। आज दोनों बहनो को ही जाने दिया अभी आठ बज रहे हैं जाने में भी देर लगेगा आते आते 12 बज जाएगा।

वो दोनों मंदिर चली गई। उसके जाते ही। मेरी सास ब्रा उतार फेंकी और मेरे ऊपर चढ़ गई। मेरे कपडे उतार फेंके मैं मना करने लगा की अभी नहीं अभी नहीं। क्यों की मेरा लौड़ा दुःख रह अतः पांच बार रात में बीवी को चोद चुका था। फिर भी नहीं मानी और चूचियां रगड़ने लगी मेरे लंड पर और चूत मेरी मुँह पर रगड़ने लगी। मेरा लौड़ा चाटने लगी। ऐसे में कौन तैयार नहीं होगा। मेरा लौड़ा खड़ा हो गया।

मैं उनको भी चोद दिया। वो भी जम कर चुदाई करि। वो बोल रही थी ऐसे ही चोदते रहना। हम दोनों माँ बेटी को। तो मैंने कह दिया तो छोटी बेटी को भी दिलवा दो। वो हसने लगी बोली उसको जाने दो। उसकी शादी और कही कर देंगे। तो मैंने तुरंत कहा क्यों करना तीनो मिल कर रहते हैं। ये फ्लैट मेरे नाम का है एक फ्लैट नोएडा में बुक करवाए हैं वो आप तीनो के नाम लिख देते हैं। वो खुश हो गई छोटी बेटी को भी देने को तैयार हो गया।

वो बोली ठीक है कल सुबह मैं और बड़ी बेटी कही शॉपिंग करने चले जाते हैं उस समय पटा लेना देखो क्या कहती है। मेरे कहने से अच्छा है वो खुद ही आपमें इंटरेस्ट ले ले। ऐसा ही हुआ दूसरे दिन सुबह मेरी बीवी और सास कही चली गई। और साली बची घर में। तो वो खुद ही बोलने लगी सुहागरात के दिन क्यों दीदी आह आह आह कर रही थी ? पता है मुझे लगा काश मैं भी आप दोनों के साथ होती। इतना सुनते ही मेरा माथा और लौड़ा ठनक गया।

हिंदी सेक्स स्टोरी :  दीदी की सास की गांड फाड़ी-2

साली को पकड़ लिया कपडे खोल दिए। वो कहने लगी जब मैं आपको देखि तब से ही मैं आपको चाहने लगी हूँ। फिर क्या था पूरा बदन नंगा कर बेड पर लिटा दिया वो मेरी बीवी से भी ज्यादा खूबसूरत है। चूचियां अभी निम्बू जैसी है छोटी छोटी। दोस्तों मैं अपने साली को भी चोदना शुरू कर दिया उसने तो गांड और चूत दोनों फाड़ डाले खूब चोदा उसको भी संतुष्ट कर दिया।

अब तीनो को चोद चुका था पर दोस्तों दिक्कत यहाँ पर ये हो गई पांच दिन तो सब कुछ अच्छा रहा जब चाहा जिसे उसको चोदा और संतुष्ट भी किया। पर उसके बाद तीन तीन की चुदाई करना मेरे बस में नहीं रहा तीनो चाहती है रोजाना चोदू। मेरा लौड़ा दुखने लगा है। दो को एक दिन में संतुष्ट तो कर पा रहा हूँ पर तीनो को नहीं। कल डॉक्टर दिखा कर आया हूँ उसने दबाइयाँ दी है ताकि तीनो को भी चोद सकूँ। खा रहा हूँ दबाई सेक्स पावर सेक्स पावर बढ़ाने के लिए।

आपने HotSexStory.xyz में अभी-अभी हॉट कहानी आनंद लिया लिया आनंद जारी रखने के लिए अगली कहानी पढ़े..
HotSexStory.xyz में कहानी पढ़ने के लिये आपका धन्यवाद, हमारी कोशिश है की हम आपको बेहतर कंटेंट देते रहे!